अब भारत भी करेगा मिसाइलों का निर्यात, जानिए कहाँ और कौन होंगे ग्राहक

0
293

अभी तक हम सभी ने खबरों में यही सुना है, कि भारत दूसरे देशों से हथियारों का आयात करता आ रहा है| भारत को हथियारों का बड़ा आयातक के रूप में जाना जाता है, परन्तु अब भारत दूसरे देशों को मिसाइलें निर्यात करेगा। भारत इसी वर्ष दक्षिण पूर्व एशियाई देशों और कुछ खाड़ी देशों को मिसाइलों की पहली खेप का निर्यात करेगा।

Advertisement

इस बात की जानकारी एक शीर्ष अधिकारी द्वारा दी गयी है| साथ ही उन्होंने बताया, कि भारत की मिसाइल तकनीक में दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के साथ ही खाड़ी देशों ने भी रुचि दिखाई है, जिसके बाद भारत ने यह निर्णय लिया है|

ये भी पढ़े: Trade War: डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से आयात पर टैरिफ बढ़ाने का दे दिया आदेश – जानिए वजह

बता दे, 14 मई से अंतर्राष्ट्रीय समुद्री रक्षा प्रदर्शनी एशिया (IMDEX Asia-2019) शुरू हो चुका है। इसमें भारत के भी अधिकारी भाग ले रहे हैं। वहीं क्षेत्रीय समुद्री अभ्यास करने के बाद 30 देशों के 23 युद्धपोत भी यहां मौजूद हैं। 

इमडेक्स एशिया 2019 एग्जीबिशन के दौरान ब्रह्मोस एरोस्पेस के एचआर कोमोडर एस के अय्यर के अनुसार, सरकारों के बीच समझौते के बाद ऐसा पहली बार होने जा रहा है, कि भारत किसी को मिसाइल निर्यात करेगा, क्योंकि सभी हमारी तकनीक को पसंद कर रहे हैं| साथ ही उन्होंने बताया, कि “ऐसे कई दक्षिण पूर्व एशियाई देश हैं, जो हमारी मिसाइलों को खरीदने के लिए तत्पर हैं।”

तीन दिवसीय चलनें वाले इस कार्यक्रम के दौरान एस के अय्यर नें कहा, “यह हमारा पहला मिसाइल निर्यात होगा। इसके साथ ही हमारी मिसाइलों में खाड़ी के देश भी रुचि दिखा रहे हैं।” भारतीय डिफेंस सेक्टर के समक्ष दक्षिण पूर्व एशियाई देशों और खाड़ी देशों में निर्यात के अच्छे अवसर बन रहे हैं। भारत-रूस जॉइंट वेंचर ब्रह्मोस और डिफेंस कंपनी लार्सन ऐंड टर्बो ने इमडेक्स प्रदर्शनी में दक्षिण पूर्व एशियाई बाजार के लिए कई रक्षा उपकरणों को प्रदर्शित किया गया है।  

ये भी पढ़े: ‘मिशन महाशक्ति’ का सैटलाइट को मार गिराने वाली मिसाइल का वीडियो हुआ जारी

Advertisement