‘Train 18’ भारत की सबसे तेज रेलगाड़ी, दिल्ली-वाराणसी के बीच तय है रूट

ट्रेन 18

भारत की सबसे तेज चलने वाली ट्रेन 18 का निर्माण पूरा हो गया है | इस ट्रेन को आईसीएफ चेन्नई द्वारा 100 करोड़ की लागत से तैयार की गई है | इस ट्रेन को 29 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हरी झंडी दिखाएंगे। सूत्रों के अनुसार, नरेंद्र मोदी इस 18 को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी से हरी झंडी दिखाकर चला सकते हैं। वैसे भी यह ट्रेन दिल्ली से वाराणसी तक जायेगी और यह शताब्दी ट्रेनों की जगह भी चलाई जायेगी |

यह ट्रेन देश में सबसे तेजी रफ्तार के साथ चलती है। निर्माण होने के कुछ दिन बाद ही इस ट्रेन का ट्रायल करने पर यह दिल्ली राजधानी रूट पर180 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ने में सफल रही। इस ट्रेन के कुछ रूल बनाय गये हैं रूल के मुताबिक यह ट्रेन सुबह 6 बजे नई दिल्ली से चलेगी और दोपहर 2 बजे तक वाराणसी पहुंचेगी। वहीं दोपहर में 2:30 बजे वाराणसी से चलकर रात 10:30 नई दिल्ली पहुँच जायेगी |

बताया जा रहा है कि 2018 में इस ट्रेन का निर्माण होने के कारण से इस ट्रेन का नाम भी 18 ही रख दिया गया है | इसमें 2 डिब्बे स्पेशल बनाय गये हैं जिसमें 52-52 सीटें मौजूद हैं इन दोनों डिब्बों में वाईफाई, एलईडी लाइट, पैसेंजर इन्फॉर्मेशन सिस्टम आदि लगे हुए हैं | और बचे हुए डिब्बों में 78-78 सीटें हैं |