पाकिस्तान ने हाफिज सईद के दो संगठनों पर लगाया बैन, अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते की कार्यवाही

0
74

पुलवामा हमले के बाद भारत और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बढ़ते दबाव को देखते हुए, आखिरकार पाकिस्तान सरकार ने गुरुवार को 2008 मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के संगठन जमात-उद-दावा और फलाह-ए-इंसानियत पर प्रतिबंध लगा दिया। यह निर्णय पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में हुई राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक में लिया गया। इमरान ने अन्य सभी आतंकी संगठनों के विरुद्ध भी कार्रवाई तेज करने के निर्देश दिए है ।

Advertisement

मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अंतरराष्ट्रीय दबाव के चलते गुरुवार को राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद बैठक में इन संगठनों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला लिया गया और गैरकानूनी करार दिए गए संगठनों के खिलाफ कार्रवाई तेज करने का फैसला लिया गया। साथ ही यह भी तय किया गया, कि गृह मंत्रालय द्वारा जमात-उद-दावा और फलह-ए-इंसानियत फाउंडेशन को गैरकानूनी घोषित किया जाए। इससे पहले गृह मंत्रालय ने दोनों संगठनों को निगरानी सूची में रखा था।

जमात-उद-दावा लश्कर-ए-तैयबा का सहयोगी संगठन है। इसी संगठन द्वारा भारत में मुंबई हमलों को अंजाम दिया गया था, अमेरिका ने जून 2014 में जमात-उद-दावा को आतंकी संगठन घोषित किया था। इसके चीफ हाफिज सईद को भी अमेरिका ने वैश्विक आतंकी घोषित कर रखा है। हाफिज सईद का नाम संयुक्त राष्ट्र के आतंकियों की सूची में भी शामिल है। जमात-उद-दावा अपनी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए फलाह-ए-इंसानियत नाम के संगठन के माध्यम से फंड एकत्र करता है। दोनों संगठनों के पाकिस्तान में 50,000 से अधिक सदस्य और 300 से अधिक मदरसे हैं।

Advertisement