पुलवामा हमला : जैश कमांडर और खूंखार पाक आतंकी कामरान गाजी को सेना ने मार गिराया

0
117

पाकिस्तान से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद की ओर से किए गए पुलवामा हमले के मास्टरमाइंड कामरान उर्फ ग़ाज़ी को सेना ने पुलवामा में हुई एक मुठभेड़ में मार गिराया है| ग़ाजी जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर है, इसके साथ ही गाजी रशीद नाम के एक और आतंकी को मार दिया गया है, जो अफगान नागरिक था, और IED विशेषज्ञ के रूप में जाना जाता था | सुरक्षा बलों ने पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिल पर हुए आतंकी हमले का पहला बदला लिया है। इस एनकाउंटर के बाद पुलवामा में कर्फ्यू लगा दिया गया है, और प्रशासन ने पुलवामा और उसके साथ सटे इलाकों में इंटरनेट सेवाओं को पूर्ण रूप से बंद कर दिया है।

Advertisement

आधी रात को आतंकियों के पुलवामा के पिंगलान इलाके में मौजूद होने की जानकारी हुई थी, जिसके कुछ समय बाद सर्च ऑपरेशन जारी कर पुलिस ने पूरे इलाके को घेर लिया था, तभी आतंकियों ने भारतीय सेना पर फायरिंग शुरू कर दी| यह मुठभेड़ रात लगभग 12 बजे शुरू हुई और रात ढाई बजे तक रुक-रुक कर फायरिंग की जारी रही, सुबह फायरिंग रुक गई, परन्तु  10 बजे पुनः फायरिंग शुरू हो गई, जिसमें यह दोनों आतंकी मारे गये |

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, कामरान उर्फ गाज़ी को पाकिस्तान की आईएसआई द्वारा ट्रेनिंग दी गयी थी,  और उसे इस ट्रेनिंग में इस प्रकार से दक्ष किया गया था,  कि वह इस प्रकार के बड़े हमलों को अंजाम देनें में सफल रहे |  वह लगभग दो माह पूर्व पुंछ के रास्ते भारत आये थे, उसके बाद वह पुलवामा पहुचे | प्राप्त जानकारी के अनुसार, जब वह पाकिस्तान से कश्मीर आये, तो उसके पास भारी मात्र में हथियार और विस्फोटक भी थे|

कामरान ने आतंकी वारदात को अंजाम देने के लिए वह अपने साथ कई अन्य लोगों को भी लेकर आया था, जो सभी अलग होकर पुलवामा पहुंचे, यह सभी लगभग पिछले दो माह से यही थे | वह अपने द्वारा लाए गए हथियारों और विस्फोटक सामग्री से कश्मीर के युवाओं को ट्रेनिंग करने के साथ उनका ब्रेन वॉश कर रहे थे| सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, कामरान और गाजी निरंतर जैश ए मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर के साथ संपर्क में रहते थे |

Advertisement