कंगना रनौत और राजकुमार राव की फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ का रिव्यु यहाँ पढ़े

0
368

कंगना रनौत और राजकुमार राव स्टारर फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ ने आज शुक्रवार को सिनेमाघरों में दस्तक दे दी है। फिल्म को लेकर लोगो में सुबह से ही उत्साह देखने को मिल रहा है। कंगना और राजकुमार राव के फैंस सिनेमाघरों तक टिकट लेकर फिल्म देखने पहुंच रहे हैं। प्रकाश कोवेलामुडी द्वारा निर्देशित फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ शुरुआत से खबरों में बनी रही। फिल्म के पोस्टर्स ने भी दर्शकों के बीच खूब बज क्रिएट किया। कंगना की यह फिल्म काफी विवादों में घिरने के बाद फिलहाल रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में आपको कंगना रनौत और राजकुमार राव की शानदार एक्टिंग देखने को मिलेगी।

Advertisement

ये भी पढ़े: केजीएफ चैप्टर 2 में अधीरा का फर्स्ट लुक पोस्टर आज हुआ रिलीज

फिल्म की कहानी

फिल्म में कहानी की शुरुआत एक प्यारी सी बच्ची से होती है। जिसकी मां घरेलू हिंसा की शिकार होती है, इसके बाद यह कहानी आपको 20 साल आगे ले जाती है। जहां बचपन में घटी घटनाओं के कारण बॉबी (कंगना रनौत) एक्यूट सायकोसिस जैसे गंभीर मनोरोग की शिकार हो जाती है। इस फिल्म में बॉबी एक डबिंग आर्टिस्ट होती है। लेकिन इस बीमारी के कारण वह जिन किरदारों को आवाज देती है, उस किरदार में खुद को ढूंढ लेती है और उसी को अपना सच मानने लगती है।

कहानी में ट्विस्ट एक दम तब आता है, जब बॉबी के नए किराएदार के रुप में केशव (राजकुमार राव) और रीमा (अमायरा दस्तूर) की एंट्री होती है। इनकी नॉर्मल लाइफ के बीच में एक नया मोड़ आता है, जब इस घर में एक मर्डर हो जाता है। जिसमें बॉबी केशव को अपराधी मानती है। क्या वह सच में अपराधी है या फिर बॉबी की एक कोरी कल्पना होती है?  क्या वास्तव में केशव ने खून किया या फिर खुद बॉबी कातिल होती है, इस रहस्य को जानने के लिए आपको फिल्म देखनी ही पड़ेगी।

फिल्म में एक्टिंग

सबसे पहले कंगना रनौत की एक्टिंग की बात करें तो, उन्होंने अपनें रोल को इस तरह से निभाया है, जैसे यह बिलकुल ही  वास्वविक है, उन्होंने बॉबी के किरदार में जबरजस्त एक्टिंग की है।   

यदि हम राजकुमार राव की एक्टिंग की बात करें तो उन्होंने भी अपना किरदार बखूबी निभाया है| ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है, कि अभी तक फिल्मों में किए गए रोल में सबसे बेहतर रोल इस फिल्म में ही निभाया है । मासूमियत से एक शातिर दिमाग तक की एक्टिंग उन्होंने इतनी बखूबी से निभाई है, जिसका कोई जोड़ ही नहीं है।

इस फिल्म में बॉबी के बॉयफ्रेंड बनें हुसैन दलाल से भी शानदार एक्टिंग की है। वह इस फिल्म में एक कड़ी जैसे हैं। जिसने फिल्म को बांधने में पूरी मदद की है। हुसैन अपनी एक्टिंग से आपको हंसने पर मजबूर कर देंगे। वहीं जिम्मी शेरगिल भी इस फिल्म में एक अहम कड़ी के रुप में नजर आए।

ये भी पढ़े:  महाराष्ट्र में आज फिर से रिलीज हो रही उरीः द सर्जिकल स्ट्राइक

फिल्म का डायरेक्शन

इस फिल्म को डायरेक्टर प्रकाश कोवलामुदी ने बनाया है। इस फिल्म में हर एक चीज आपको बांधे रखेगी। फिल्म में सीन के अलावा केरेक्टर और साउंड आपके अंदर कहानी को लेकर अलग ही उत्सुकता बड़ा देगा। आप ये सोचने के लिए मजबूर हो जाएंगे कि आखिर आगे क्या होने वाला है? फर्स्ट हॉफ शानदार है, लेकिन सेकंड हाफ में फिल्म को कुछ ज्यादा की खींच दिया गया है। वहीं क्लाइमैक्स को कुछ ही मिनट के अंदर खत्म कर दिया गया है।

फिल्म में म्यूजिक और डायलॉग

यदि हम फिल्म के म्यूजिक की बात करें, तो इस फिल्म में बैकग्राउंड म्यूजिक की अहम भूमिका है। ये बेकग्राउंड सीन आने के पहले ही आपके अंदर एक नया जोश भर देता है। इस फिल्म में हर किरदार के डायलॉग बहुत ही अच्छे है। एकदम साधारण लगने वाले शब्द को इतने बेहतर ढंग से प्रस्तुत किया गया है, जिसे सुनकर आप सोच में पड़ सकते है कि वास्तव में इस तरह से भी इन शब्दों को बोला जा सकता है। कई डायलॉग आपको हंसने में मजबूर कर देंगे ।

फिल्म देखे कि नहीं

यदि आप राजकुमार और कंगना रनौत के फैन के अलावा कुछ अच्छे कंटेंट की फिल्म का इंतजार कर रहे थे, तो फिर आपको यह फिल्म जरूर देखनी चाहिए।

ये भी पढ़े: मिशन मंगल और बाटला हाउस की टक्कर इस हॉलीवुड फिल्म से, 15 अगस्त को होगी रिलीज़

Advertisement