देश का सबसे लम्बा पुल बनकर तैयार – जानिए इसकी ख़ास बातें

देश का सबसे लम्बा पुल ब्रह्मपुत्र नदी पर बनकर तैयार हो चुका है| इस नव निर्मित पुल का  उद्घाटन पीएम मोदी आज करेंगे| इस पुल को बनवाने की नीव पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने सन 1997 में रखी थी| वर्ष 2002 में अटल सरकार की देख – रेख में इस पुल का निर्माण जारी हुआ था| इस पुल के निर्माण से अरुणाचल प्रदेश और चीन की सीमा के आस-पास के और सभी प्रदेशों से सीधा आवागमन आरंभ हो जायेगा |

पुल की ख़ास बातें

*यह पुल एशिया का दूसरा सबसे बड़े पुल है| इस पुल की लंबाई 4.94 किलोमीटर है। यह चीन के साथ लगती सीमा पर रक्षा साजो-सामान के लिए एक सुविधा जनक रास्ता है। यह पुल असम के डिब्रूगढ़ को धीमाजी से जोड़ेगा।

* यह पुल ब्रह्मपुत्र के जलस्तर से 32 मीटर की ऊंचाई पर है, इस पुल में सबसे ऊपर एक तीन लेन की सड़क है और उसके नीचे दोहरी रेल लाइन है |

* अब यात्रियों को डिब्रूगढ़ से अरुणाचल प्रदेश की यात्रा की दूरी 100 किलोमीटर से भी कम तय करनी पड़ेगी | इस पुल के निर्मित हो जानें से अब यात्रियों को 500 किलोमीटर की दूरी नहीं तय करनी होगी |

* इस पुल का नाम बोगीबील रखा गया है | इस पुल पर भूकंप का अधिक असर नहीं पड़ेगा | यह 7 तीव्रता से अधिक के भूकंप में भी नहीं टूटेगा |