इजरायल के संसदीय चुनाव में नेतन्याहू 5वीं बार सत्ता की दौड़ में, नतीजों पर टिकी निगाहें

इजरायल में संसदीय चुनाव 22वें संसदीय चुनाव के लिए वोट डाले जा चुके है, लगभग 6 माह के अंदर इजरायल में दूसरी बार संसदीय चुनाव के लिए वोट डाल रहे हैं। प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू रेकॉर्ड 5वीं बार सत्ता में आ पाएंगे या नहीं, यह बहुत हद तक अल्पसंख्यक अरब वोटरों द्वारा तय होगा| इस चुनाव में मुख्य मुकाबला नेतन्याहू की लिकुड पार्टी और बेनी गैंट्ज की ब्लू ऐंड वाइट पार्टी के बीच माना जा रहा है, इन दोनों के अलावा 28 अन्य पार्टियां भी मैदान में हैं।

ये भी पढ़े: मलेशिया के PM मताहिर मोहम्मद ने जाकिर नाइक को लेकर कही ये बड़ी बात, यहाँ पढ़े पूरी खबर

अप्रैल में होनें वाले चुनाव में कुल 120 सीटों में से नेतन्याहू की पार्टी लिकुड को 35, गैंट्ज की ब्लू ऐंड वाइट पार्टी को भी 35 और 50 सीटें अन्य को मिली थीं। इजरायली संसद नेसेट के अबतक के 71 सालों के इतिहास में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। यही कारण है, कि हमेशा इजरायल में गठबंधन सरकार रही है। विशेषज्ञों के मुताबिक इस बार के भी नतीजे अप्रैल जैसे हो सकते हैं|

इस चुनाव से पहले  किये गये सर्वेक्षणों में लिकुड और ब्लू ऐंड वाइट के बीच कांटे की टक्कर की भविष्यवाणी की गई है। दो सर्वेक्षणों में लिकुड को 32 सीटों का अनुमान जताया गया है, जबकि ब्लू ऐंड वाइट को 31 सीट मिलने की भविष्यवाणी की गई है। इसका मतलब है, कि चुनाव बाद गठबंधन करने में जो बाजी मारेगा, अगले 4 साल तक उसकी सत्ता हो सकती है।

ये भी पढ़े: Howdy Modi कार्यक्रम में PM मोदी संग डोनाल्ड ट्रंप होंगे शामिल, व्हाइट हाउस ने किया कन्फर्म