चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे लोकेश को पुलिस ने किया नजरबंद, जानिए क्या है मामला

आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश को नजरबंद कर लिया गया है| टीडीपी के कई नेता आंध्र प्रदेश के वर्तमान मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी की पार्टी वाईएसआरसीपी सरकार के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन कर रहे है, जिसके चलते चंद्रबाबू नायडू और उनके बेटे नारा लोकेश को विरोध प्रदर्शन में भाग लेने से रोकने के लिए उन्हीं के आवास पर हिरासत में रखा गया है|

ये भी पढ़े: POK के इस मानवाधिकार कार्यकर्ता ने पाकिस्‍तान पर कसा तंज, जानें- क्‍या कहा

चंद्रबाबू नायडू सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक भूख हड़ताल करने वाले थे। वहीं सुबह चंद्रबाबू नायडू के आवास पर जाने की कोशिश कर रहे टीडीपी नेताओं और कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका और हिरासत में ले लिया। बता दें, कि पार्टी ने आज बुधवार  चलो ‘अत्तमाकुर रैली’ का आह्वन किया है। पुलिस का कहना है कि टीडीपी नेताओं के पास चलो अत्माकुर रैली के लिए अनुमति नहीं है, इसलिए पुलिस ने यह कदम उठाया। पुलिस ने नरसरावोपेटा, सटेनपल्ले, पलनाडु और गुरजला में धारा 144 लागू कर दी है।

पुलिस महानिदेशक गौतम सवांग ने जानकारी देते हुए कहा,  कि यहां के कुछ क्षेत्रों में आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 144 और पुलिस अधिनियम की धारा 30 लागू कर दी गई है, साथ ही उन्होंने कहा कि इसके बाद अब राज्य के किसी भी क्षेत्र में कोई बैठक, रैली जुलूस और प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं है|

ये भी पढ़े: वाहन का चालान होने पर अपनाए यह रास्‍ता, जुर्माना हो जाएगा माफ