रूस ने पीएम मोदी को अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित करने की घोषणा

अब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अधिकतर देशों से सम्मान देने का सिलसिला अभी लगातार जारी है| अब एक बार फिर रूस ने पीएम मोदी को अपना सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित करने की घोषणा की है| रूस नें अब मोदी जी को ‘ऑर्डर ऑफ सेंट ऐंड्रयू द अपोस्टल’ से सम्मानित करनें की घोषणा की है| इसके बाद मोदी ने इस फैसले के लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और रूस की जनता का आभार जताया है।  

इसे भी पढ़े: पाकिस्तानी नंबर से बीजेपी नेता के मोबाइल पर आया मैसेज, पीएम मोदी और आर्मी चीफ को मारने की दी धमकी

मोदी जी ने अपनें संबोधन में कहा, ‘आपने (पुतिन ने) अपेन देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान देने का फैसला किया। इसके लिए हम आपका और रूस के लोगों का आभारी हैं। यह दोनों देशों के बीच विशेष मैत्रीपूर्ण संबंधों को दर्शाता है। यह 1 अरब 30 करोड़ भारतीयों के लिए बहुत सम्मान का विषय है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘रूस भारत का अभिन्न मित्र और विश्वसनीय साझेदार है। हमारी स्पेशल और प्रिविलेज्ड पार्टनरशिप का विस्तार करने पर आपने व्यक्तिगत ध्यान दिया है। दो अभिन्न मित्रों के रूप में हमारी आपसे कई मुलाकातें हुई हैं। मैंने आपसे टेलिफोन पर कई मामलों पर चर्चा की है। मुझे कभी कोई झिझक नहीं हुई।’

प्रधानमंत्री ने पुतिन को अपना अभिन्न मित्र बताते हुए कहा कि, ईस्टर्न इकनॉमिक फोरम के लिए उनसे मिला निमंत्रण बेहद सम्मान का विषय है। मोदी ने कहा कि दोनों देशों के बीच सहयोग को नया आयाम देने के लिए यह एक नया ऐतिहासिक अवसर है। इसी के साथ  कहा, ‘आज की हमारी मुलाकातें बहुत महत्वपूर्ण हैं और इनका ऐतिहासिक महत्व भी है। दोनों देशों के बीच यह 20वां वार्षिक सम्मेलन है। पिछले 20 वर्षों में इस व्यवस्था ने हमारे संबंधों को 21वीं सदी के अनुरूप ढाला है और उन्हें हमारे लिए ही नहीं, विश्व के लिए शांति, प्रगति और स्थायित्व का एक विशेष कारक बनाया है।’

प्रधानमंत्री ने विभिन्न क्षेत्रों में भारत और रूस के बीच साझेदारी की चर्चा करते हुए कहा कि, आज हमारे बीच डिफेंस, न्यूक्लियर एनर्जी, स्पेस, बिजनस टु बिजनस समेत कई क्षेत्रों में सहयोग को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाने के लिए सहमति बनी है|’ इसी के साथ कहा, ‘आज भी करीब दो घंटे हम लोगों को साथ रहने का मौका मिला। आपने कई महत्वपूर्ण विषयों से अवगत कराया। हमने दो घंटे आपके साथ बिताया। आपकी दूरदृष्टि, आपका विजन, इस क्षेत्र के विकास के प्रति आपका संकल्प देखा।’ मोदी ने कहा कि रूस के सूदूर पूर्व क्षेत्र की यह उनकी पहली यात्रा है। वह फार ईस्ट यूनिवर्सिटी में अत्याधुनिक बुनियादी ढांचे से अत्यंत प्रभावित हुए। ‘

इसे भी पढ़े: स्वच्छ भारत मिशन के लिए पीएम मोदी को अमेरिका में किया जाएगा सम्मानित