दर्जी के पास नहीं थे कोचिंग के लिए पैसे, बेटे ने पाया मेहनत की दम पर IIT में एडमिशन – मुख्यमंत्री ने दी बधाई

दुनिया में बहुत से ऐसे छात्र हैं, जो अपनी मेहनत और लगन से देश का नाम रोशन कर देते हैं | इसी तरह दिल्ली के एक छात्र ने भी एक कारनाम कर दिखाया है, जिसकी तारीफ जितनी करो उतनी कम है| बता दें कि, दिल्ली के रहने वाले 16 साल के एक विजय नाम के अभ्यर्थी ने मिसाल कायम करते हुए दिल्ली आईआईटी में प्रवेश लिया है| विजय एक दर्जी का बेटा हैं, जिसने कठिन परिस्थितियों में मेहनत कर एक बड़ी कामयाबी हासिल की|   

इसे भी पढ़े: IIT Bombay से BTech युवक ने ज्वॉइन की रेलवे ग्रुप डी की नौकरी

विजय दिल्ली में अपने परिवार के साथ माधोपुर इलाके में रहते है| उसके पिता दर्जी होने के  कारण उनके घर में इतनी बड़ी रकम नहीं थी, कि वो अपने बेटे को प्राइवेट कोचिंग में पैसा देकर आईआईटी की तैयारी करा पाते, क्योंकि सभी निजी कोचिंग संस्थानों में लगभग 3 से 4 लाख रुपये फीस जमा करनी रहती हैं|  लेकिन विजय का हौसला कम नहीं हुआ और वह अपने इस सपने को पूरा करने के लिए दिल्ली सरकार की जय भीम प्रतिभा विकास योजना के कोचिंग इंस्टीट्यूट में दाखिला लिया और वहां फ्री में कोचिंग पढ़ने लगा| इसके बाद कड़ी मेहनत के साथ उसने आईआईटी की प्रवेश परीक्षा पास कर दिखाई| 

वहीं अब विजय की इस सफलता पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी खुशी जाहिर करते हुए अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर लिखा- “विजय कुमार के पिताजी दर्जी हैं, माताजी घरेलू काम करती हैं| आज मुझे बेहद खुशी हो रही है, कि दिल्ली सरकार ने इनकी मुफ्त कोचिंग कराई और इनका IIT में दाखिला हो गया. यही तो था बाबासाहब का सपना, जो आज दिल्ली पूरा कर रही हैं|”

इसे भी पढ़े: जम्मू-कश्मीरः इरमीम शमीम ने पहले प्रयास में पास की एम्स एमबीबीएस की परीक्षा