ट्रंप की नई नीति, अमेरिका संसद में ग्रीन कार्ड की जगह ‘बिल्ड अमेरिका’ वीजा का रखा प्रस्ताव

अब ट्रम्प ने नई नीति का चुनाव किया है| अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने संसद में ग्रीन कार्ड की जगह नई आव्रजन योजना ‘बिल्ड अमेरिका’ वीजा का प्रस्ताव रख दिया है| इनकी यह नई नीति आव्रजन योजना योग्यता और मैरिट पर आधारित होगी|

वहीं इन नीति से ग्रीन कार्ड या स्थायी वैध निवास की अनुमति का इंतजार कर रहे भारतीयों के साथ-साथ अन्य विदेशी पेशेवरों और कुशल श्रमिकों को भी लाभ प्राप्त होगा| अभी इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलना मुश्किल हो सकता है, क्योंकि डेमोक्रेटिक और रिपब्लिकन में विवाद अभी जारी है|


इसे भी पढ़े: Trade War: डोनाल्ड ट्रंप ने चीन से आयात पर टैरिफ बढ़ाने का दे दिया आदेश – जानिए वजह

जानकारी देते हुए बता दें, कि अमेरिका प्रत्येक साल लगभग 11 लाख विदेशियों को ग्रीन कार्ड की सुविधा प्रदान करता है| इस कार्ड से ही लोगों को अमेरिका में स्थायी रूप से काम करने और रहने की अनुमति मिल पाती है| ट्रम्प ने गुरुवार 16 मई को कहा कि, वे इस नए प्रस्ताव के तहत बड़ा बदलाव चाहते हैं, इससे योग्यता को वरीयता मिलेगी|

व्हाइट हाउस के रोज गार्डन में ट्रम्प ने कहा है, कि अमेरिका हमेशा से ही विदेशियों का स्वागत करने वाला देश रहा है और भविष्य में भी करता रहेगा| ‘बिल्ड अमेरिका’ वीजा के तहत ग्रीन कार्ड के लिए विदेशियों को इंग्लिश भाषा सीखनी होगी| साथ ही नागरिक शास्त्र की परीक्षा भी पास करनी होगी| यह प्रस्ताव अभी संसद में है और इसको कांग्रेस की मंजूरी मिलना मुश्किल लग रहा है| संसद में डेमोक्रेटिक पार्टी का बहुमत है, जबकि सिनेट में रिपब्लिकन का नियंत्रण है| दोनों पार्टियों के नेता इस प्रस्ताव को लेकर आपस में बंटे हुए हैं|

इसे भी पढ़े: बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पीएम मोदी के लिए कह दी ये बड़ी बात