UPSC Civil Pre एग्जाम की तैयारी की Tips, सुने यूपीएससी टॉपर्स की जुबानी

0
376

क्या आपको मालूम है, कि आख़िरी समय में UPSC Civil प्री की तैयारी कैसे की जाए ? यदि आपको इस बात की कोई जानकारी नहीं है, तो जानिये यूपीएससी की टॉपर्स टिप्स|

Advertisement

बता दें, कि संघ लोक सेवा आयोग बहुत जल्द 2 जून यूपीएससी सिविल सर्विसेज प्रीलिम्स परीक्षा आयोजित करेगा| UPSC में 5वीं रैंक हासिल करने वाली सृष्टि जयंत देशमुख और 8वीं रैंक हासिल करने वाली वैशाली सिंह की मीडिया बातचीत में सृष्टि देशमुख और वैशाली सिंह ने प्रीलिम्स परीक्षा की तैयारी के लिए टॉपर्स टिप्स शेयर किये|

इसे भी पढ़े: TSBSE 10th Result 2019: 13 मई को जारी होगा 10वीं का रिजल्ट

पेपर की तैयारी में NCERT की किताब का अहम रोल  

वैशाली का जवाब- NCERT की किताबों से तैयारी करना इसीलिए जरूरी है, क्योंकि इससे आपका बेस बनता है| ऐसा नहीं है, कि एनसीआरटी की किताबों से सवाल आ रहे हैं| एनसीआरटी की किताब से सवाल नहीं आते तो स्टूडेंट्स एनसीआरटी पढ़ना छोड़ देते हैं, लेकिन एनसीआरटी की किताबें पढ़ने के बाद आप एप्लीकेशन बेस सवाल आसानी से निकाल सकते हैं|

ऐसे करे सीसेट की तैयारी

वैशाली का जवाब- ये उम्मीदवार पर निर्भर करता है, कि वे एप्टीट्यूड में कितने अच्छे हैं| जिनकी मैथ्स अच्छी है, उन्हें उतनी ज्यादा प्रैक्टिस नहीं करनी पड़ेगी लेकिन फिर भी उन्हें प्रैक्टिस करनी चाहिए क्योंकि अगर आप एक बार कंफ्यूज हुए तो मैथ्स और लॉजिक तो घबराहट में हो ही नहीं सकता है| जिनकी मैथ्स अच्छी है, वे सीसेट की तैयारी के लिए 4 या 5 पेपर हल कर सकते हैं पर जिनकी मैथ्स और रीजनिंग मजबूत नहीं है, तो उनको थोड़ा ज्यादा ध्यान देकर इसकी तैयारी कर लेनी चाहिए| उसके लिए वो किताबों से तैयारी कर सकते हैं और पुराने पेपर्स की मदद ले सकते हैं|

मॉक टेस्ट अवश्य दे  

वैशाली का जवाब- UPSC की तैयारी के लिए मॉक टेस्ट सबसे मददगार है| मैं परीक्षा से 2 महीने तक रोज 1 मॉक टेस्ट हल करती थी|

ऐसे करें रिवीजन

अधिकतर लोग पढ़ा हुआ एग्जाम के समय भूलने लगते हैं, ऐसे में क्या करना चाहिए?

सृष्टि का जवाब- भूलना जायज है और हम सब भूलते हैं, ऐसे में रिवीजन करना बेहद जरूरी है | कई ऐसे विषय हैं जैसे मॉडर्न इंडियन हिस्ट्री में कई सवाल होते हैं जैसे ये किताब किसने लिखीं, ऐसे सवाल ऑब्जेक्टिव जिन्हें हम याद कर सकते हैं| पर्यावरण में कई सवाल होते हैं कि कौन सा नेशनल पार्क कहां हैं ऐसी चीजों को मैंने चार्ट बनाके रख लिया था  और अलग से मैं हर रोज उसको देखती रहती थी| भूगोल में मैं हर रोज एटलेस को देखा करती थी मैप के साथ किसी और विषय की बात करें तो एक हफ्ते में मैंने जो कुछ पढ़ा उसे में हर शनिवार या रविवार को रिवाइज कर लिया करती थी|

परीक्षा नजदीक आने पर बनाये ऐसी रणनीति

सृष्टि का जवाब- परीक्षा के 2 महीने आने तक मैं कहूंगी कि मैंने टेस्ट से ये पता किया कि कौन से सेक्शन हैं जो मुझसे गलत हो रहे हैं| मैंने उन सेक्शन का ज्यादा रिवीजन किया जहां मेरी ज्यादा गलतियां हो रही थी| जहां भी गलती हो रही है अगर टाइम है तो अपनी गलतियों को सुधारें| अगर आपको लग रहा है, कि आपका अर्थशास्त्र या भूगोल कमजोर है, तो उन पर समय निकाल कर ध्यान दें|

अपने नोट्स बनाने का क्या फायदा है?

वैशाली का जवाब- मैं अपने खुद के नोट्स बनाना सही समझती हूं क्योंकि उससे मुझे लिखते-लिखते याद हो जाता है| वैसे आप किसी से नोट्स ले भी सकते हैं|

टिप्पणियां

परीक्षा का समय नजदीक आते ही प्रेशर बढ़ जाता है, प्रेशर से दूर रहकर कैसे तैयारी करें? सृष्टि का जवाब- एक तो 2 महीने में जो पैनिक आता है, उस पर आपको कंट्रोल रखना है | पैनिक करते हैं तो हम न ढंग से पढ़ पाते हैं और न ही एग्जाम के दिन अच्छे से परफॉर्म कर पाते हैं| ऐसे में जितना विश्वास हम बाकी के महीनों में लेकर चले हैं, आखिरी के समय में आप पर जितना भी प्रेशर हो लेकिन आप बस खुद पर भरोसा रखें| एग्जाम के नजदीक आते ही आप रिवीजन पर ध्यान दें और अपनी पढ़ाई के साथ खुद पर भरोसा रखें|

इसे भी पढ़े: पुलिस में कैसे भर्ती होते हैं यहाँ से जाने सारी जानकारी

Advertisement