वाराणसी लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री की किससे होगी टक्कर, इस बार का क्या कहता है चुनावी समीकरण

0
265

Varanasi Lok Sabha Election- 2019

Advertisement

लोकसभा चुनाव 2019 में भारतीय जनता पार्टी ने वाराणसी से प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को दोबारा मैदान में उतारा है, कांग्रेस या गठबंधन ने अभी तक किसी भी प्रत्याशी की घोषणा नहीं की है, परन्तु मद्रास और कलकत्ता हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज सी. एस. कर्णन वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ चुनाव लड़ने की बात कह रहे है| इसके अतिरिक्त भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर उर्फ़ रावण ने यहाँ से चुनाव लड़ने की बात की है|

नोट:- वाराणसी में मतदान सातवें चरण के अंतर्गत 19 मई को होगा|

ये भी पढ़ें: वाराणसी लोकसभा सीट का इतिहास क्या कहता है, कितने है इस निर्वाचन क्षेत्र में मतदाता

सपा-बसपा गठबंधन में वाराणसी सीट सपा के खाते में आई है| 2014 में सपा ने इस सीट से कैलाश चौरसिया को उम्मीदवार बनाया था, जबकि कांग्रेस के टिकट पर पूर्व विधायक अजय राय लड़े थे|

प्राप्त जानकारी के मुताबिक अजय राय ने फिर आवेदन किया है और महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग के विभागाध्यक्ष पद से सेवानिवृत्त प्रो. अनिल कुमार उपाध्याय भी टिकट के दावेदारों में शामिल हैं|

पिछले चुनाव वाराणसी सीट में पीएम मोदी का वोट शेयर 50 प्रतिशत था, उन्होंने 3.37 लाख वोट से जीत हासिल की थी| पीएम मोदी को कुल 5,16,593 वोट हासिल हुए थे|

लोकसभा चुनाव 2019 में पीएम मोदी ने वहां की जनता के रुख को देखते हुए ही केवल वाराणसी सीट से ही चुनाव लड़ने का निर्णय लिया है| जिससे भाजपा इस सीट के लिए पूरी तरह से सुनिश्चित लग रही है| अभी तक किसी विरोधी दल ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारा है जिससे वाराणसी में मोदी लहर का पता चलता है|

ये भी पढ़ें: सहारनपुर लोकसभा सीट का अब तक का क्या रहा है इतिहास

ये भी पढ़ें:प्रधानमंत्री मोदी की बायॉपिक के बाद अब NAMO TV पर भी चुनाव आयोग ने लगाई रोक

Advertisement