पश्चिम बंगाल में स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाल: डॉक्‍टरों को धमका रही हैं ममता बनर्जी – केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन

पश्चिम बंगाल में एक सरकारी अस्पताल के डॉक्टर पर हमला कर दिया गया था जिसके विरोध में डॉक्टरों ने हड़ताल कर दी है | हड़ताल के कारण वहां पर स्वास्थ्य व्यवस्था बदहाल दौर से गुजर रही है, मरीज इलाज के लिए दर-दर भटकते हुए नजर आ रहे है | इस हड़ताल में देश भर के डॉक्टर शामिल हो रहे है, जिससे आगे समस्या बढ़ने वाली ही है | पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी है, उन्होंने डॉक्टरों से बात की जिसके बाद वहां के 43 डॉक्‍टरों ने इस्‍तीफा दे दिया है, जिसके बाद राजनीतिक मायने निकाले जा रहे है |

ये भी पढ़ें: नीतीश सरकार ने किया बड़ा एलान, अब 60 साल से ज्यादा उम्र वालों को दी जाएगी पेंशन

केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ हर्षवर्धन है उन्होंने कहा कि “डॉक्टरों को वो धमका रही हैं उन्हें हड़ताल खत्म करने के लिए कदम उठाना चाहिए, आज ममता बनर्जी को पत्र लिखेंगे और डॉक्टरों की हड़ताल खत्म करने की अपील करेंगे” |

फिर उन्होंने कहा कि “शनिवार को देश के सभी मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर अस्पतालों में डॉक्टरों को सुरक्षित माहौल मुहैया कराने की गुजारिश करेंगे” इसके बाद उन्होंने कहा कि “दिल्ली के जो डॉक्टर हड़ताल पर हैं उनसे अपील करेंगे कि जो उन्होंने शपथ लिया था उसे याद करते हुए हड़ताल वापस लें, विरोध का सांकेतिक तरीका हड़ताल के अलावा दूसरा भी हो सकता है, सबसे अपील हड़ताल खत्म करें, सेफ एनवायरनमेंट की कोशिश होनी चाहिए” |

कल एम्स के रेजिडेन्ट्स डॉक्टर्स एसोशिएशन (RDA) के 7 डॉक्टर का डेलीगेशन स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से मिला था जिसके बाद उन्होंने सभी मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखने और गृहमंत्री अमित शाह से इसके लिए विचार विमर्श करने का अनुरोध करने की बात की |

ये भी पढ़ें:  जानिए मोदी टीम के सबसे ख़ास 3 अफसरों के बारे में जो हैं टीम का अहम हिस्सा