लापता विमान दुर्घटना AN-32 में जान गंवाने वाले वायुसेना सैनिकों के शव बरामद किये गए

तीन जून को लापता वायुसेना  के एएन-32 (AN-32) विमान का मलबा भी बरामद कर लिया गया था| इसके  बाद इस दुर्घटना में जान गंवाने वाले सभी 13 वायुसेना कर्मियों का शव  भी बरामद कर लिया गया है| इसके साथ ही  इस ट्रांसपोर्ट विमान का ब्लैक बॉक्स भी खोज निकला गया है| एयरफोर्स ने गुरुवार 13 जून को सुबह पुष्टि की थी, कि इस विमान में सवार रहने वाले सभी लोग दुर्घटना में कोई जीवित नहीं बचा है|

इसे भी पढ़े: एयर फ़ोर्स विमान AN-32 के मलबे की आई पहली खौफनाक मंजर की तस्वीर – Watch Video

15 सदस्यीय बचाव दल, पर्वतारोहियों और विशेष बलों ने शवों को घने जंगलों से बरामद किया, जहां विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था| अधिकारियों ने कहा कि इलाके से शवों को निकालने के लिए हेलीकॉप्टरों का इस्तेमाल किया जाएगा|  

13 IAF कर्मियों की पहचान विंग कमांडर जीएम चार्ल्स, स्क्वॉड्रन लीडर एच विनोद, फ्लाइट लेफ्टिनेंट आर थापा, फ्लाइट लेफ्टिनेंट ए तंवर, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एस मोहंती, फ्लाइट लेफ्टिनेंट एमके गर्ग, वारंट ऑफिसर केके मिश्रा, सार्जेंट अनूप कुमार एस, कॉर्पोरल शेरिन एनके, लीड एयरक़्राफ़्ट मैन एसके सिंह, लीड एयरक़्राफ़्ट मैन पंकज, असैन्य कर्मचारी पुतली और असैन्य कर्मचारी राजेश कुमार के रूप में हुई  है|

विमान के ब्लैक बॉक्स, जिसमें कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर और फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर शामिल हैं, को भी खोज निकाल लिया गया है| अब इससे अच्छे से मालूम किया जा सकेगा कि विमान हादसे का शिकार क्यों हुआ|   

इसे भी पढ़े: IAF ने लापता AN32 विमान के क्रैश में नहीं बचा कोई, वायुसेना ने दी जानकारी