क्रिकेटर युवराज सिंह ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास, रिटायरमेंट के बाद कही ये बड़ी बात

भारतीय क्रिकेट टीम के चैंपियन युवराज सिंह ने आज क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा कर दी। उन्होंने साउथ मुंबई होटल में मीडिया को बुलाया और संन्यास लेने की घोषणा कर दी| अपने रिटायरमेंट के दौरान युवराज सिंह ने कहा- ‘अब आगे बढ़ने का समय आ गया है|’ युवराज को टीम इंडिया के शॉर्टर फॉर्मेट के सर्वश्रेष्‍ठ बल्‍लेबाजों में शुमार किया जाता था|

ये भी पढ़े: 10 जून आज का इतिहास – आज भारतीय क्रिकेट का था बहुत ख़ास दिन, जानिए आज की अन्य अहम बातें

 युवराज सिंह ने भारत के लिए 40 टेस्‍ट, 304 वनडे और 58 टी20 इंटरनेशनल मैचों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्‍व किया| भारतीय टीम को वर्ल्‍डकप 2011 में चैंपियन बनाने में युवराज का अहम रोल रहा| गेंद और बल्‍ले से शानदार प्रदर्शन करते हुए युवराज ने वर्ल्‍डकप 2011 के सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़ी होने का श्रेय हासिल किया था| भारतीय टीम को वर्ष 2011 के वर्ल्‍डकप में चैंपियन बनाने में भी युवराज का अहम योगदान रहा था|

वर्ष 2017 के बाद से उनका चयन भारतीय टीम में नहीं हो पा रहा था। बताया जा रहा है, कि 37 वर्षीय युवराज आईसीसी से मान्यता प्राप्त विदेशी टी20 लीग में बतौर फ्रीलांस क्रिकेटर करियर बनाना चाहते हैं। उन्हें जीटी20 (कनाडा), आयरलैंड और हॉलैंड में यूरो टी 20 स्लैम में खेलने के ऑफर मिल रहे हैं। युवराज ने कहा कि काफी समय से लग रहा था, कि अब आगे बढ़ने का वक्त आ गया है। 

युवराज सिंह लेफ्ट हैंडर बल्लेबाज है, और उन्होंने आखिरी बार भारत के लिए फरवरी 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ टी20 इंटरनैशनल मैच में खेला था। इससे पहले वह चैंपियंस ट्रोफी 2017 और उसके बाद वेस्ट इंडीज दौरे पर गई भारतीय टीम का हिस्सा रहे, उन्होंने अपने करियर का अंतिम वनडे मैच 30 जनवरी 2017 को वेस्ट इंडीज के खिलाफ एंटीगुआ में खेला था।

ये भी पढ़े: ICC Cricket World Cup 2019: पूर्व सेनाध्यक्ष वीके सिंह भी आये अब धोनी के समर्थन में जानिए क्या है विवाद