लोकसभा चुनाव: 15 से 20 दिनों के भीतर बज सकता है चुनावी बिगुल, 6 मार्च को पीएम मोदी कर सकते है अंतिम कैबिनेट बैठक

0
116

भारत में आम चुनाव अप्रैल-मई  माह में होने निर्धारित हैं। सभी राजनैतिक पार्टियां बजट सत्र के बाद से 17वे लोकसभा चुनाव की तैयारियों में लगे हुए है। चुनाव आयोग मार्च के पहले या फिर दूसरे सप्ताह में कभी भी चुनावों के तारीखों की घोषणा कर सकता है। मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार,  6 मार्च को प्रधानमंत्री मोदी देश के सभी मुख्य सचिवों के साथ बैठक कर विकास कार्य की प्रगति की समीझा करेंगे और उसी दिन प्रधानमंत्री मोदी अपने कैबिनेट के साथ भी बैठक कर सकते है।

Advertisement

मोदी सरकार की यह बैठक वर्तमान टर्म की अंतिम बैठक हो सकती है, और 3 जून से पहले नई लोकसभा का गठन होना है। मीडिया से प्राप्त जानकारी के अनुसार, चुनाव आयोग 7 से 10 मार्च के बीच कभी भी चुनवों के तिथियों की घोषणा कर सकता है । चुनाव आयोग ने सभी राज्यों के मुख्य सचिवों को चिट्ठी लिखकर साफ कर दिया है, कि 28 फरवरी के बाद कोई तबादले नहीं होंगे। साथ ही आयोग ने अंतिम समय में किए गए सभी तबादलों की जानकारी देने के लिए कहा है। चुनाव आयोग की ओर से मिल रहे संकेतों के मुताबिक 10 मार्च से पहले कभी भी चुनाव के तारीखों का ऐलान हो सकता है।

जम्मू-कश्मीर की विधानसभा पिछले वर्ष नवंबर में भंग हो चुकी है, और नियमों के अनुसार 6 माह के अंदर विधानसभा चुनाव करवाने होंगे। वर्तमान स्थिति को देखते हुए जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव नहीं होंगे। इससे पहले सरकार ने संकेत दिया था, कि लोकसभा के साथ वहां विधानसभा के भी चुनाव होंगे |

Advertisement