अनुच्छेद 370 को लेकर गंभीर ने महबूबा को दिया ये जवाब- बोले यह भारत है, आपके जैसा धब्बा नहीं जो गायब हो जाएगा

मंगलवार 9 अप्रैल को पूर्व क्रिकेटर और भाजपा नेता गौतम गंभीर की टि्वटर पर जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती से बड़ी भिड़ंत हो गई| इसमें हुई बड़ी बहस के कारण बाद में महबूबा ने गौतम को ट्विटर पर ब्लॉक कर दिया। 

महबूबा ने कहा था, कि अनुच्छेद 370 खत्म करने का मतलब होगा, कि कश्मीर में भारत का संविधान प्रभावी नहीं होगा। यदि भारतीय इसे नहीं समझते तो वे गायब हो जाएंगे और उनकी कहानी खत्म हो जाएगी। इस पर गंभीर ने जवाब देते हुए लिखा, ‘‘यह भारत है, आपके जैसा धब्बा नहीं जो गायब हो जाएगा।’’

यह भी पढ़े:35A से की छेड़छाड़ को लेकर जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती बेहद भड़काऊ बयान

 इसके बाद गंभीर के बयान पर महबूबा मुफ्ती ने तीखा जवाब देते हुए कहा, ‘‘उम्मीद करती हूं कि भाजपा में आपकी राजनीतिक पारी आपके क्रिकेट करियर की तरह बहुत खराब न रहे।’’ 

 फिर गंभीर ने जवाब दिया कहा, ‘‘ओह! तो आपने मेरे ट्विटर हैंडल को अनब्लॉक कर दिया। आपको मेरे ट्वीट का जवाब देने के लिए 10 घंटे लगे और इस तरह की नीरस तुलना की। वह भी इतने धीमे। यह आपके व्यक्तित्व में गहराई की कमी दिखाता है। कोई आश्चर्य नहीं, कि आप जैसे लोग हाथ के मुद्दों को सुलझाने के लिए संघर्ष करते रहें।’’

इसके बाद महबूबा ने गंभीर की मानसिक सेहत पर भी चिंता जताते हुए लिखा- मैं आपको ब्लॉक कर रही हूं। आप 2 रुपए प्रति ट्वीट के हिसाब से कहीं और ट्रोल कर सकते हैं। आप कश्मीर के बारे में कुछ नहीं जानते।

इस पर गंभीर ने जवाब दिया, “महबूबा मुफ्ती मेडम, आपके द्वारा ट्विटर अकाउंट ब्लॉक किए जाने से काफी खुश हूं। लेकिन एक बात बता दूं कि इस ट्वीट को लिखते समय 1,365,386,456 भारतीय हैं। आप उन्हें कैसे रोकेंगी ?” 

यह भी पढ़े:उमर अब्दुल्ला के ‘जम्मू-कश्मीर के लिए अलग PM की मांग’ पर ट्विटर पर भिड़े गौतम गंभीर – दिया करारा जवाब