एयरस्ट्राइक पर सुबूत मांगने वालों को मिला करारा जवाब, पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों ने 200 से अधिक आतंकियों को दफनाने की बात की कबूल

0
84

भारतीय वायु सेना द्वारा बालाकोट में की गई एयरस्ट्राइक में भारत के दावे के मुताबिक 200 आतंकियों के मारे जाने का आंकड़ा अब धीरे धीरे सही साबित होता दिख रहा है। अमेरिका में रह रहे गिलगित बालटिस्तान के एक्टिविस्ट सेंगी हसनान सेरिंग ने एक वीडियो शेयर करते हुए दावा किया है,  कि इन आतंकियों के शव बालाकोट से खैबर पख्तूनख्वा ले जाए गए। वीडियो में स्थानीय उर्दू अखबारों में छपी ख़बर से सम्बंधित जानकारी दी है ।

Advertisement

ये भी पढ़े: अभिनंदन जैसे एक और थे जांबाज पायलट पढ़े उनकी कहानी

गिलगित बालटिस्तान नें ट्विटर पर शेयर किए वीडियो के बारे में उन्होंने लिखा, ‘भारत के एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तानी सैन्य अधिकारियों ने 200 से अधिक आतंकियों को दफनाने की बात कबूल की है। वीडियो में कुछ पाक अधिकारियों को रोते हुए बच्चों को चुप कराते देखा जा सकता है। पीछे किसी की आवाज आ रही है जिसमें एक शख्स कह रहा है, कि यह अल्लाह का करम है। हमारे 200 बंदों को यह मौका मिला। हालांकि, ‘युगलाइव’ इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता है। 

बालाकोट एयरस्ट्राइक में आतंकी कैंपों के तबाह होने की खबरों का पाकिस्तान लगातार खंडन करता रहा है। दूसरी तरफ भारत ने इस एयरस्ट्राइक में 200 से अधिक आतंकियों के मारे जाने और आतंकी कैंप के बुरी तरह से तबाह होने की बात कही है। बालाकोट में जैश का प्रमुख आतंकी ट्रेनिंग कैंप रहा है। पुलवामा हमले का सुसाइड बॉम्बर को बालाकोट से ही ट्रेनिंग मिली थी।

ये भी पढ़े: भारत के साहस की दुनिया भर में चर्चा

Advertisement