आनंदीबेन पटेल आज यूपी के 25 वें राज्यपाल पद की लेंगी शपथ

0
363

आज 29 जुलाई को दिन में 12:30 बजे उत्तर प्रदेश की मनोनीत राज्यपाल आनंदीबेन  राजभवन के गांधी सभागार में 25 वें राज्यपाल पद की शपथ लेंगी। वह प्रदेश की 34वीं राज्यपाल तथा उत्तर प्रदेश का गठन होने के बाद 25वीं राज्यपाल हैं। वहीं इस शपथ ग्रहण समारोह में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति गोविन्द माथुर मनोनीत राज्यपाल को शपथ दिलायेंगे। 
वह प्रदेश की 34वीं राज्यपाल तथा उत्तर प्रदेश का गठन होने के बाद 25वीं राज्यपाल हैं।

Advertisement

इसे भी पढ़े: चौथी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री बनें बीएस येद्दयुरप्पा, शपथ से पहले अपने नाम की अंग्रेजी स्पेलिंग में किया बदलाव

यूपी की मनोनीत राज्यपाल सुबह 10.20 बजे चौधरी चरण सिंह इंटरनेशनल एयरपोर्ट, अमौसी पहुंची, जहा उनके स्वागत के लिए विशिष्ट महानुभाव उपस्थित थे| इसके साथ ही पुलिस उनको गार्ड ऑफ ऑनर उपलब्ध करायी जाएगी, इसके बाद वो राजभवन के लिये प्रस्थान करेंगी।  

मनोनीत राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा है कि, भेंट के अवसर पर पुष्प गुच्छ आदि के बजाय पुस्तकें एवं खाद्य वस्तुएं दी जानी चाहिए, जिन्हें किसी जरूरतमंद को दिया जा सके, जो किसी के उपयोग में आ सके। आनंदीबेन पटेल का मानना है कि, पुष्प स्वीकार कर निश्चय ही सुखद अनुभूति होती है पर फूल के खराब होने के साथ पैसे भी बेकार हो जाते हैं। उसकी अपेक्षा यदि कोई पुस्तक या खाद्य वस्तु आदि हो तो वह जरूरतमंद बच्चों को भी भेजी जा सकती है। बता दें, कि इससे पहले भी वह राजभवन मध्य प्रदेश में खाद्य वस्तुओं एवं किताबों को अनाथालय, वृद्धाश्रम और मलिन बस्तियों के बच्चों को उपहार स्वरूप  उपलब्ध कराती रहती थी|

रविवार 28 जुलाई को मध्य प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल की बेटी अनार पटेल आनंदीबेन के एक दिन पहले ही लखनऊ पहुंच चुकी है। इसके बाद राजभवन अधिकारियों को नए निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं। बताया गया कि, शिष्टाचार भेंट के दौरान लोगों से उपहार स्वरूप मिलने वाली पुस्तकों व खाद्य वस्तुओं को राज्यपाल राजभवन से अनाथालय, वृद्धाश्रम और मलिन बस्तियों के बच्चों को भेजेंगी। उन्होंने पुष्प गुच्छ दिए जाने की परंपरा को खत्म करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए है।’

इसे भी पढ़े: आजम खा़न की अभद्र टिप्पणी पर, सांसद रमा देवी ने कहा – अब माफी से बात नहीं बनेगी

Advertisement