उन्नाव रेप पीड़िता की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, हादसे में चाची-मौसी की मौत

0
466

रविवार 28 जुलाई को उन्नाव रेप कांड की पीड़िता के साथ बड़ा हादसा हो गया हैं, और इस हादसे की चपेट में आये लोगों का बचना भी मुश्किल हैं| जानकारी देते हुए बता दें, कि उन्नाव रेप पीड़िता की कार को 28 जुलाई को एक ट्रक ने टक्कर मार दी हैं| इस भयानक हादसे में पीड़िता व उनका वकील बहुत ही बुरी तरीके से घायल हो गए, जबकि चाची व मौसी की मौत हो गई है| वहीं पीड़िता व वकील को ट्रॉमा सेंटर लखनऊ में वेंटिलेटर पर रखा गया है।

Advertisement

इसे भी पढ़े: बीए, बी.एससी या बी.कॉम के साथ कर सकते हैं बीएड, इसी सत्र से मिलेगा मौका

जब पीड़िता रायबरेली जिला जेल में बंद अपने चाचा से मिलने के लिए कार से जा रही थी, तभी सामने से आकर एक ट्रक ने टक्कर मार दी| अभी भी घायल पीड़िता से दुष्कर्म मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर जेल में बंद है। वहीं, सेंगर के भाई अतुल सिंह पर जानलेवा हमले में पीड़िता के चाचा को भी जेल हो गई थी|

यह हादसा गुरुख्शगंज थाना क्षेत्र में रायबरेली-लालगंज राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुल्तानपुर खेड़ा गांव के मोड़ के पास दोपहर लगभग एक बजे हुआ था| उस समय कार पीड़िता की चाची व उनकी बहन और वकील महेंद्र सिंह मौजूद थे| हादसे के समय मौके पर पहुंची पुलिस उन्हें सभी घायल लोगों को जिला अस्पताल ले गई जहां मौसी की मौत हो गई| जिसके बाद तीनों को ट्रॉमा सेंटर रेफर कर दिया गया। ट्रॉमा में चाची की भी मौत हो गई। वहीं एसपी सुनील कुमार सिंह ने बताया कि, चालक को गिरफ्तार कर पूछताछ की जा रही है।’

एडीजी राजीव कृष्ण ने पीड़िता के साथ हादसे के समय सुरक्षाकर्मियों के मौजूद न होने की जांच एसपी उन्नाव को सौंपी दी है। हालांकि उन्होंने बताया कि, शुरुआती जांच-पड़ताल में सामने आया है, कि कार में जगह न होने के चलते लोग सुरक्षाकर्मियों को साथ नहीं ले गए।’ इसी के साथ कहा कि, एसपी की रिपोर्ट के बाद कार्रवाई की जाएगी। हादसा या साजिश पर उन्होंने कहा कि, पीड़िता के परिवार की ओर से तहरीर मिलने पर उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।’

इसे भी पढ़े: इलाहाबाद हाईकोर्ट : इंजीनियरिंग में डिग्री धारक को नहीं मिल सकती जूनियर इंजीनियर की नौकरी

Advertisement