कांग्रेस पार्टी की प्रियंका चतुर्वेदी के साथ उनके ही कार्यकर्ताओं ने की बदसलूकी, twitter पर जाहिर की निराशा

अब लोकसभा के चुनाव का समापन होने से पहले ही कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की एक बड़ी बात सामने आई हैं बता दें कि बुधवार 17 अप्रैल को राष्ट्रीय प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट के माध्यम से अपनी ही पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा की गई बदसलूकी और अभद्र व्यवहार के कारण नाराजगी जताई है |

ये भी पढ़े: कांग्रेस आम आदमी पार्टी से गठबंधन पर अंतिम निर्णय आज

जानकारी देते हुए बता दें कि कुछ दिनों पहले ही प्रियंका यूपी के मथुरा में थीं | उनके साथ मथुरा में ही राफेल डील को लेकर हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अभद्र व्यवहार किया | इसके बाद उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी इसे गहराई में लेते हुए कार्यकर्ताओं के विरूद्ध तुरंत ही कार्रवाही की प्रक्रिया शुरू कर दी | लेकिन इसके बाद घटना पर केवल खेद प्रकट करके कार्यवाही निरस्त कर दी|

इस पूरे मसले पर अफसोस प्रकट करते हुए प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ”बड़े ही दुख की बात है कि पार्टी मारपीट करने वाले बदमाशों को अधिक वरीयता देती है, बजाय जो खून पसीने के साथ काम करते हैं. पार्टी के लिए मैंने अभद्र भाषा से लेकर हाथापाई तक झेली, लेकिन फिर भी जिन लोगों ने मुझे पार्टी के अंदर धमकी दी, उनके साथ कोई भी ठोस कार्रवाई नहीं हुई. वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं.

बता दें कि पिछले दिनों प्रियंका चतुर्वेदी को मध्य प्रदेश के मंदसौर मामले में वायरल हो रहे एक फर्जी संदेश को लेकर एक यूजर ने उनकी बेटी का रेप करने की धमकी दी थी | जिसके बाद प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट करके इसकी जानकारी देते हुए कहा था कि ”भगवान राम के नाम से ट्विटर हैंडल चलाकर, पहले तो मेरा गलत बयान लगाते हो, फिर मेरी बेटी के बारे में अभद्र टिप्पणी करते हो. कुछ शर्म हो तो चुल्लू भर पानी में डूब मरो वरना भगवान राम ही इसका सबक सिखाएंगे तुम जैसे नीच सोच वाले इंसान को.”  प्रियंका ने इस धमकी के बाद ट्विटर के जरिये ही मुंबई पुलिस को इस पूरे मामले की जानकारी दी और मामला दर्ज करवाया था |

ये भी पढ़े:प्रियंका वाड्रा की हो रही देशभर में चर्चा, उत्तर प्रदेश कांग्रेस की प्रभारी और पार्टी की महासचिव बनीं