हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद का जन्मदिन आज, जानिए उनसे जुड़ी खास बातें

0
623

आज 29 अगस्त को हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद का 114वां जन्मदिन है। ध्यानचंद का जन्म आज ही के दिन सन 1905 में इलाहाबाद में हुआ था।  बड़े होने पर ध्यानचंद को खेल जगत की दुनिया में ‘दद्दा’  के नाम से बुलाया जाता हैं। बता दें कि, हर साल 29 अगस्त को ध्यानचंद के जन्मदिन को राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Advertisement

इसे भी पढ़े: नये साल 2019 में इन प्लेयर्स से हैं नये रिकॉर्ड बनाने की उम्मीदें

इसी दिन सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्न के साथ-साथ  अर्जुन, ध्यानचंद पुरस्कार और द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित किया जाता हैं। इस बार खेल रत्न पुरस्कार से पैरा ऐथलीट दीपा मलिक और पहलवान बजरंग पूनिया को सम्मानित किया जाएगा। आप भी जानिये उनसे जुड़ी ख़ास बातें |

ध्यानचंद से जुडी अहम बातें

1.ध्यानचंद जब 16 साल के ही थे तभी वो भारतीय सेना के साथ जुड़ गए थे । इसके बाद  उन्होंने हॉकी खेलने की शुरुवात कर दी| ध्यानचंद के अंदर हॉकी का खेलने का इतना अधिक जुनून था, कि वह चाँद निकलने तक हॉकी खेलने के लिए लगातार प्रैक्टिस किया करते थे। इसी वजह से उनके सभी साथी खिलाड़ी उन्हें ‘चांद’ कहना शुरू कर दिया था|

2.ध्यानचंद 1928 एम्सटर्डम ओलिंपिक गेम्स में भारत की तरफ से सबसे अधिक गोल करने वाले खिलाड़ी थे। उन खेलों में उन्होंने  ने 14 गोल करने का कारनामा कर दिखाया। वहीं एक अखबार ने लिखा था, ‘यह हॉकी नहीं बल्कि जादू था। और ध्यानचंद हॉकी के जादूगर हैं।’

3.इसके बाद 1935 में क्रिकेट के सर्वकालिक महान बल्लेबाज माने जाने वाले सर डॉन ब्रैडमैन ने ध्यानचंद से मुलाकात की फिर ब्रैडमैन ने ध्यानचंद के बारे में कहा था कि, वह ऐसे गोल करते हैं, जैसे क्रिकेट में रन बनाए जाते हैं।’

4.बता दें कि, विएना के एक स्पोर्ट्स क्लब में ध्यानचंद के चार हाथों वाली मूर्ति लगाई गई थी, जिसमें उनके हाथों में हॉकी स्टिक हैं। यह मूर्ति बताती है कि, उनकी स्टिक में कितना जादू था। ‘

5.ध्यानचंद ने 1928, 1932 और 1936 ओलिंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए देश में इतिहास रचा और तीनों ही बार भारत नेल्ड मेडल जीता। 

इसे भी पढ़े: स्वदेश लौटने के बाद पीवी सिंधु ने की पीएम मोदी से मुलाकात,मेडल पहनाकर दी जीतने की बधाई

Advertisement