भारत और श्रीलंका की नौसेना ने बंगाल की खाड़ी में शुरू किया संयुक्त अभ्यास

भारत और श्रीलंका की नौसेनाओं ने मंगलवार 10 सितंबर को आंध्र प्रदेश के विजाग बंदरगाह से बंगाल की खाड़ी में संयुक्त युद्धाभ्यास करना शुरू कर दिया है| इस अभ्यास में शामिल होने वाले दोनों देशों की नौसेनाओं के चार जहाजों ने अभ्यास के ‘सी-फेज’ में समन्वित समुद्री संचालन की भी शुरुवात कर दी है। ‘सी-फेज’ से पहले दोनों देशों की नौसेनाओं ने विजाग बंदरगाह पर पेशेवर संवाद किया। इसके साथ ही प्रशिक्षण गतिविधियों, सांस्कृतिक कार्यक्रमों और खेल प्रतियोगिताओं में शामिल हुए|

इस भी पढ़े: वाइस एडमिरल करमबीर सिंह बनें भारतीय नौसेना के नए सेना प्रमुख

अभी कुछ दिन पहले ही 7 सितंबर को छह दिवसीय संयुक्त अभ्यास ‘स्लीनेक्स 2019’ की औपचारिक शुरुआत  विजाग बंदरगाह पर कर दी गई थी। मंगलवार 10 सितंबर से चार जहाज और उनके क्रू समुद्र में विमान ट्रैकिंग, क्रास डेक फ्लाइंग, गोलीबारी, विजिट बोर्ड सर्च और जब्ती प्रक्रियाओं, अंडरवे रिप्लेनिशमेंट और नौसैनिक युद्धाभ्यास में शामिल हो जाएंगे|

श्रीलंका ने आधुनिक गश्ती जहाज एसएलएनएस सिंधुराला और एक अन्य जहाज एसएलएनएस सूरानीमाला को अभ्यास के लिए भेज दिया है। एसएलएनएस सिंधुराला को भारत की सरकारी रक्षा कंपनी गोवा शिपयार्ड ने पूरी तरह से तैयार किया है।

वहीं भारतीय नौसेना ने मिसाइल जंगी जहाज आइएनएस खुकरी और गश्ती जहाज आइएनएस सुमेध को युद्धाभ्यास में शामिल होने के लिए भेजा है। वहीं भारत ने अभ्यास में जल के मध्य गश्ती समुद्री विमान के अतिरिक्त हेलीकॉप्टरों को तैनात कर दिया है|

इसे भी पढ़े: सेना प्रमुख जनरल रावत हो सकते हैं देश के पहले (Chief of Defence Staff) चीफ ऑफ डिफेंस स्‍टाफ