‘मैं समाज का विरोधी हूं, मैं घर पर नहीं रह सकता हूँ’

नॉवेल कोरोना वायरस को चलते देश के 19 प्रदेशों में लॉकडाउन है । इस समय कई स्थानों पर देखा जा रहा है कि लोग घरों से अभी भी बाहर निकलना बंद नहीं कर रहे हैं । ऐसी प्रतिक्रिया को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी नाराजगी जताई है । अब ऐसे व्यक्तियों के विरुद्ध कार्रवाई करने के लिए राज्य सरकारों की पुलिस ने भी अपनी कमर टाइट कर ली है । मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में में भी कुछ ऐसा ही नजारा सामने आया है । मध्य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस ने लॉकडाउन का विरोध करने वाले युवकों के हाथ में पोस्टर थमा दिया गया, जिस पर लिखा है, ‘मैं समाज का दुश्मन हूं, मैं घर पर नहीं रह सकता हूँ ।’

केंद्र ने राज्यों से कहा, कड़ाई से लागू करें लॉकडाउन साथ ही उल्लंघन पर करें

मंदसौर के एसपी ने लोगों को घरों पर रहने के लिए इसे एक सामाजिक प्रयोग कहा है । उन्होंने बताया, ‘यदि कोई धारा 144 का विरोध करेगा, तो उसके साथ कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।’

लॉकडाउन क्या होता है, आखिर क्यों किया जाता है – जाने सब कुछ यहाँ

मध्य प्रदेश के अतिरिक्त उत्तर प्रदेश में भी ऐसा ही बर्ताव किया जा रहा है । बरेली में उत्तर प्रदेश पुलिस ने लॉकडाउन के समय घरों से बहार निकलने वाले व्यक्तियों के साथ ऐसा ही बर्ताव किया है ।

उत्तर प्रदेश के किन जिलों में रहेगा 25 तक लॉकडाउन पढ़े क्या खुलेगा और क्या