लॉकडाउन क्या होता है, आखिर क्यों किया जाता है – जाने सब कुछ यहाँ

आज पूरे विश्व में  कोरोना वायरस के चलते काफी एहतियात बरते जा रहे है इसी के क्रम में आज से पूरे देश में कई जिलों को लॉकडाउन करने की घोषणा की गई है | कोरोना वायरस से निपटने और संक्रमण फैलने से रोकने के लिए हमारी केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को कई जिलों को लॉकडाउन करने को कहा है ये वही जिले हैं जिनमें कोरोना से संक्रमण के पॉजिटिव मामले सामने आए हैं |

उत्तर प्रदेश के किन जिलों में रहेगा 25 तक लॉकडाउन पढ़े क्या खुलेगा और क्या रहेगा बंद

क्या होता है लॉकडाउन?

लॉकडाउन का साधारण अर्थ है तालाबंदी | लॉकडाउन या तालाबंदी एक आपदा सुरक्षा व्यवस्था है जो किसी आपदा या महामारी के समय  वक्त सरकारी तौर पर जारी करके लागू की जाती है | तालाबंदी या लॉकडाउन जिस इलाके में होता है वहां  उस एरिया  के लोगों को घरों से बाहर निकलने की इज़ाज़त  नहीं होती है | उन्हें सिर्फ जरूरी सेवाओं जैसे दवा और अनाज की खरीदारी के लिए ही बाहर आने की अनुमति होती  है, साथ ही इस दौरान  बैंक से पैसे निकालने भी जा सकते हैं |

जनता कर्फ्यू का संदेश देते हुए इशारो – इशारो में CM योगी क्या बोले – पढ़ें पूरी खबर

दूसरे अर्थों में समझा जाये तो जिस तरह किसी संस्थान या फैक्ट्री को बंद किया जाता है और वहां तालाबंदी हो जाती है उसी तरह लॉक डाउन का भी अर्थ है कि आप बिना वजह  किसी कार्य के लिए सड़कों पर नहीं निकलेंगे | यहाँ पर हमआपको बता दें की कभी भी अगर आपको लॉकडाउन की वजह से किसी भी प्रकार  की परेशानी का सामना करना पद रहा हो तो आप संबंधित पुलिस थाने, जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक या अन्य उच्च अधिकारी को फोन कर सकते हैं |

कोरोना वायरस : देश में कहां कितना फैला कोरोना, देखिये यहाँ पूरी लिस्ट

इन चीजों पर रहती है रोक

क्यों किया जाता लॉकडाउन ?

आपको पता हो ही गया है की अब लॉकडाउन आखिर है क्या तो अब आइये थोड़ा जान लेते हैं इसे क्यों किया जाता है ? इसे आम जन मानस  की सहूलियत और सुरक्षा के लिए किया जाता है | इसमें  सभी प्राइवेट और कॉन्ट्रेक्ट वाले ऑफिस साथ ही सरकारी दफ्तर जो जरूरी श्रेणी में नहीं आते उनको भी बंद रखा जाता  हैं | यहाँ ये भी जान लीजिये कि लॉकडाउन एक ऐसा आपातकालीन प्रोटोकॉल है जिसके तहत शहर या प्रदेश में रहने वाले लोगों को क्षेत्र छोड़कर जाने या घर से बाहर निकलने पर पूरी तरह से रोक लगाई जाती है |

2 अप्रैल तक यूपी में हुए सभी स्कूल, कॉलेज और मल्टीप्लेक्स बंद

इन सेवाओं पर रहती है छूट

कोरोना का असर : ICSE, NTA साथ ही CBSE की भी बोर्ड परीक्षाएं हुई रद्द

आपको बताते चलें कि हमारे देश में भी कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण की वजह से आपातकालीन स्थिति के ध्यान में रखते हुए भारत के कई शहरों को लॉक डाउन किया गया है जिनकी संख्या की बात कि जाये तो वो 75 है | भारत में कोरोना को लेकर सबसे पहला लॉकडाउन महाराष्ट्र में किया गया है |

सरकार ने उठाया कदम, मास्क और हैंड सैनिटाइज़र को आवश्यक वस्तु घोषित