इस्‍लामिक प्रचारक जाकिर नाइक पर मलेशिया सरकार ने कसा शिकंजा, भाषण देने पर लगायी रोक

अब इस्‍लामिक प्रचारक जाकिर नाइक पर शिकंजा कसने लगा है, क्योंकि मलेशिया सरकार ने जाकिर नाइक के भाषण देने पर रोक लगा दी है। इसके अलावा अब मलेशिया में भी जाकिर नाइक के प्रत्‍यर्पण की काफी बातों का खुलासा हो रहा हैं। बता दें कि, अभी कुछ दिन पहले ही  मलेशिया के मानव संसाधन विकास मंत्री एम. कुलसेगरन ने जाकिर नाइक को भारत को सौंपे जाने के लिए कह दिया है| उन्‍होंने कहा कि, जाकिर नाइक समाज में घृणा फैलाने की साजिश रच रहा है। उसके कार्यों को देखकर नहीं लगता कि वह मलेशिया में रहने का हकदार है।”

इसे भी पढ़े: आर्टिकल 370: अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने पीएम मोदी के बाद इमरान से की बातचीत, जानिए क्या कहा

कुलसेगरन के बयान के बाद वहां के प्रधानमंत्री महातिर मुहम्मद ने कहा है कि, विवादास्पद इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाइक से मलेशिया के स्थायी निवासी (पर्मानेंट रेजिडेंट) होने का दर्जा वापस लिया जा सकता है।’ इस बयान के संकेत बिल्‍कुल साफ हैं कि, आने वाले दिनों में जाकिर नाइक की मुश्किलें बढ़ने वाली हैं। इसी के साथ कहा था कि, यदि यह साबित हो गया, कि नाइक की गतिविधियां उनके देश के लिए नुकसानदेह हैं, तो उक्‍त कार्रवाई करने से परहेज नहीं करेगी।”

वहीं मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, मलेशिया सरकार द्वारा की उठाए गए कदमों से जाकिर नाइक घबरा गया है, क्योंकि अब उसने अपने विवादित बयानों को लेकर माफी मांगी है। उसने कहा है कि वह नस्‍लवादी नहीं है। उसके बयानों को गलत संदर्भों में लिया गया और गलत तरीके से तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया। इसी के साथ कहा, ‘भले ही मैंने अपना स्‍पष्टिकरण दे दिया है। मैं समझता हूं कि मुझे हर किसी से मांफी मांगनी चाहिए जिन्‍हें ठेस पहुंची है।’

इसे भी पढ़े: चंद्रयान-2 चंद्रमा की कक्षा में सफलतापूर्वक हुआ दाखिल, जानिए कैसा होगा आगे का सफर