अनुच्छेद 370 को रद्द करने के मामले पर चर्चा के लिए पाक विदेश मंत्री चीन रवाना

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को रद्द करने के भारत के फैसले पर पाकिस्तान पूरी तरह से बौखला गया है, ऐसे में वह निरंतर बिना सोंचे समझे ही एक के बाद एक निर्णय लेता जा रहा है| अब पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी जम्मू एवं कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले मामले पर चर्चा के लिए  चीन रवाना हो गए हैं।

ये भी पढ़े: अमेरिकी सांसदों की पाक को फटकार, कहा – ‘आतंकी संगठनों के खिलाफ दिखने लायक कदम उठाए’

मीडिया से प्रापर जानकारी के अनुसार, शुक्रवार सुबह बीजिंग के लिए उड़ान भरने से पहले कुरैशी ने कहा, ‘भारत अपने असंवैधानिक तौर-तरीकों से क्षेत्रीय शांति को बाधित करने पर आमादा है.’ उन्होंने कहा, ‘चीन न केवल पाकिस्तान का मित्र है, बल्कि क्षेत्र का एक महत्वपूर्ण देश भी है.’

विदेश मंत्री ने कहा कि वह स्थिति पर चीन के नेतृत्व को विश्वास में लेंगे. विदेश सचिव सोहेल महमूद और विदेश मंत्री के अन्य उच्च अधिकारी भी कुरैशी के साथ रवाना हुए हैं. भारत सरकार ने सोमवार को जम्मू एवं कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया|

ये भी पढ़े: समझौता एक्सप्रेस करीब 5 घंटे की देरी से पहुंची दिल्ली, अपनों को देख भावुक हुए परिजन