सऊदी अरब में बिना बुर्के के घूम रहीं महिलाओं की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल, जानिए लोगो ने क्या कहा

इस समय सोशल मीडिया पर सऊदी अरब में बिना बुर्के के घूम रहीं महिलाओं की तस्वीरें  तेजी से वायरल हो रही हैं| वायरल हो रही इन तस्वीरों में महिला बिना अबाया (मुस्लिम महिलाओं द्वारा पहने जाने वाला सिर से पैर पर ढकने वाला फुल-लेंथ कपड़ा) के दिखाई दे रही हैं| वहीं मशाल-अल-जालुद नाम की ये महिला 33 साल की है, जो अबाया छोड़ वेस्टर्न कपड़ों व्हाइट ट्राउज़र और ऑरेंड रैप जैकेट में मॉल के बाहर घूमती हुई दिखाई दी है, और मॉल के बाहर मौजूद भीड़ उनको घूरती हुई नजर आ रही है, लेकिन जालुद पर इसक अकोइ असर नहीं हुआ और वह बिंदास वहां से गुजरी|

इसे भी पढ़े: सऊदी अरब में महिलाएं संरक्षक की अनुमति के बिना कर सकेंगी विदेश यात्रा

बता दें कि, वहां पर  मशाल-अल-जालुद के साथ-साथ 25 साल की सामाजिक कार्यकर्ता मनाहेल-अल ओतैबी भी अबाया (बुर्का) थोड़ वेस्टर्न कपड़ों व्हाइट टी-शर्ट और डेनिम डंग्री में सड़कों पर घूमती अजर आई है|

बताया जा रहा है कि, सऊदी अरब में यह बदलाव प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान के एक इंटरव्यू के बाद देखा जा रहा है क्योंकि, साल 2018 में शहजादा मोहम्मद बिन सलमान ने ‘सीबीएस’ को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि, ड्रेस कोड में छूट दी जा सकती है| उनका कहना था कि, यह पोशाक इस्लाम में अनिवार्य नहीं है, लेकिन इसके बाद भी कोई औपचारिक नियम नहीं बनने के कारण यह चलन बरकरार है|” ये तस्वीरें देख लोगों का अलग-अलग रिएक्शन आया है|

कोई इनकी सुरक्षा की दुआ कर रहा है तो कोई इनकी हिम्मत को दात दे रहा है…

इसे भी पढ़े: भारत में अलग-अलग रंग के पासपोर्ट जारी करने का क्या है कारण – जानिए यहाँ से