प्रधानमंत्री आवास के अंदर 12 एकड़ में बने हैं कितने बंगले – क्या आप जानते हैं

देश का नेतृत्व करने वाले प्रधानमंत्री का सरकारी आवास 12 एकड़ में बना हुआ है| शपथ ग्रहण करने के बाद प्रधानमंत्री का सरकारी आवास यही होगा| यह आवास राजधानी दिल्‍ली के लुटियन जोन में बने 7, लोक कल्‍याण मार्ग पर स्थित है| चुनाव परिणाम के बाद प्रधानमत्रीं की कुर्सी पर कौन बैठेगा, यह शपथ ग्रहण के बाद ही स्पष्ट होता है|

ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री कैसे चुना जाता है : क्या है योग्यता, अधिकार, शक्तियां हिंदी में

यह आवास वर्ष 1980 में बनकर तैयार हुआ था| इस आवास में प्रधान मंत्री कार्यालय, सुरक्षा के लिए एसपीजी और गेस्ट हाउस भी हैं| प्रधानमंत्री आवास के बंगले का नक्शा रॉबर्ट टॉर रसेल ने बनाया था| इस आवास में सबसे पहले रहने वाले प्रधानमंत्री राजीव गाँधी है| प्रधानमंत्री वीपी सिंह के कार्यकाल के दौरान इसे सरकारी निवास बनाया गया था| यहाँ पर पांच बंगले है, उन्हें 1, 3, 5, 7 और 9 नंबरों से जाना जाता है|

बंगला नंबर-5 प्रधानमंत्री का निजी आवास है| बंगला नंबर-7  प्रधानमंत्री का कार्यालय है| बंगला नंबर-9 में एसपीजी रहते हैं| बंगला नंबर- 3 एक गेस्ट हाउस है| बंगला नंबर-1 में हेलिपैड है, जिसके द्वारा प्रधानमंत्री अपनी यात्रा कर सकते है|

यहाँ पर 2 किमी लंबी एक सुरंग का भी निर्माण किया गया है| यह सुरंग प्रधानमंत्री आवास को सफदरजंग हवाई अड्डे से जोड़ती है| प्रधानमंत्री आवास की सुरक्षा बहुत ही सख्त है, यहां पर प्रवेश से पहले सभी की कई राउंड जाँच की जाती है, बिना जाँच के प्रधानमंत्री के रिश्तेदार भी नहीं मिल सकते| प्रधान मंत्री आवास को नो फ्लाई जोन घोषित किया गया है|

इस क्षेत्र में किसी भी विमान को आने की परमीशन नहीं दी गयी है| यहाँ के सभी होटलों के टॉप 4 फ्लोर पर सरकारी कब्ज़ा है, जिससे पूरे क्षेत्र पर निगरानी की जाती है|

ये भी पढ़ें: Full Form of UPA & NDA in Hindi: क्या है राजग और संप्रग मतलब