सेना में भर्ती होने के लिए श्रीनगर में लगी कतार, सैकड़ों की तादाद में पहुंचे युवा

भारत सरकार द्वारा जम्‍मू-कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद वहां के हालातों को देखते हुए सरकार ने वहां पर रोजगार देने पर विशेष जोर देना शुरू कर दिया है| वहां के हालातों में सुधार लाने के लिए सेना की तरफ से 3 और 4 अक्‍टूबर को सेना के लिए विशेष भर्ती अभियान चलाया जा रहा है| जिसमें भर्ती होने के लिए घाटी के सबसे अधिक युवा शामिल हो रहे हैं| बता दें कि, यह अभियान आर्मी रिक्रूटिंग ऑफिस (एआरओ) जम्मू, एआरओ श्रीनगर और जेएके एलआई रेजिमेंटल सेंटर द्वारा जारी किये गए है|

इसे भी पढ़े: जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारुक अब्दुल्ला को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, हिरासत के खिलाफ याचिका हुई खारिज

आर्टिकल 370 के अधिकतर प्रावधान हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में यह भारतीय सेना का एक बड़ा भर्ती अभियान चालाया जा रहा है| अब इस अभियान के माध्यम से ही जम्मू-कश्मीर लाइट इंफेंट्री (जेएके एलआई) रेजिमेंट के लिए 2780 पदों पर उम्मीदवारों का चयन होगा|

जम्‍मू-कश्‍मीर के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने कहा था कि, जम्मू-कश्मीर में 50 हजार सरकारी नौकरियां आने वाले दो से तीन महीनें में वहां के युवाओं को मिलेगा| केंद्र इस पर लगातार काम कर रहा है| इस भर्ती अभियान को उसी संदर्भ में देखा जा सकता है|”

इसे भी पढ़े: अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार जम्मू-कश्मीर में होंगे BDC चुनाव, जानिए कब होंगे चुनाव