2 अगस्त से सुप्रीम कोर्ट करेगा अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद की रोजाना सुनवाई

0
47

SC Hearing on Ayodhya Ram Janambhoomi Case | गुरुवार 18 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने राजनीतिक रूप से संवेदनशील अयोध्या राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद मामले में सुनवाई की है| सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता कमिटी को दिए गए समय को और समय बढ़ा दिया है| अब मध्यस्थता कमिटी 31 जुलाई तक इसकी रिपोर्ट देने की प्रक्रिया पूरी करेगी| 

Advertisement

इसे भी पढ़े: अयोध्या मामले की सुनवाई : राम जन्मभूमि विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने मध्यस्थता से हल निकालने की दी पेशकश

वहीं 11 जुलाई को मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच-न्यायाधीशों की संविधान पीठ ने इस मुद्दे पर एक रिपोर्ट मांगते हुए कहा था कि, सुप्रीम कोर्ट द्वारा मध्यस्थता की कार्यवाही समाप्त करने का फैसला करने पर 25 जुलाई से प्रति दिन की सुनवाई शुरू हो सकती है, लेकिन अब कहा गया है, कि रिपोर्ट 31 जुलाई को सौंपी जाएगी और 2 अगस्त से इस मामले में रोजाना सुनवाई की जाएगी|

18 जुलाई तक सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश और तीन सदस्यीय मध्यस्थता पैनल के चेयरपर्सन न्यायमूर्ति एफएमआई कलीफुल्ला ने मध्यस्थता की प्रगति बताने के लिए कहा था | वहीं इस बात की जानकारी 11 जुलाई को जस्टिस एस ए बोबडे, डी वाई चंद्रचूड़, अशोक भूषण और एसए नाजेकी र बेंच ने दी थी| इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने गोपाल सिंह विशारद के कानूनी उत्तराधिकारी द्वारा दायर एक आवेदन पर सुनवाई करते हुए यह आदेश पारित कर दिया, जिसमें विवाद और मध्यस्थता प्रक्रिया के समापन पर न्यायिक निर्णय की मांग करते हुए आरोप लगाया गया कि वहां कुछ भी नहीं हो रहा था|

इसे भी पढ़े: अयोध्या / सुप्रीम कोर्ट में मध्यस्थता पैनल आज अपनी स्टेटस रिपोर्ट देगा, फिर इसी से होगा तय कि रोज सुनवाई हो या नहीं

Advertisement