Home National Solar Eclipse in India | अब 95 साल बाद यानी 2114 में...

Solar Eclipse in India | अब 95 साल बाद यानी 2114 में ही भारतीय देख पायेगे पूर्ण सूर्य ग्रहण

0
655

अभी तक सभी लोग पूर्ण सूर्यग्रहण की जानकारी के बारे में पाठ्य पुस्तकों, गूगल में ही पढ़ते थे, लेकिन अब आपको  95 साल बाद यानी 2114 में भारतीय पूर्ण सूर्य ग्रहण को देख पाएंगे | अब लोगों को इसे देखने का सपना किताबों तक ही सीमित रह सकता है, क्योंकि आने वाले लगभग सौ साल बाद भारत के मैदानी भाग में पूर्ण सूर्यग्रहण को देखा जा सकेगा। इसके पहले 20 मार्च 2034 को भी भारत में यह खगोलीय घटना की जाएगी, लेकिन इसे भारत में नहीं बल्कि कारगिल के दुर्गम पहाड़ों में ही देखा जा सकेगा। 

भोपाल की राष्ट्रीय अवार्ड प्राप्त विज्ञान संचारिका सारिका घारू ने रविवार 30 जून को हिन्दुस्थान समाचार से बातचीत में इस बात की जानकारी दी है|

इसे भी पढ़े: Solar Eclipse on 2 July | Surya Grahan 2019 : 2 जुलाई को लगेगा सूर्य ग्रहण, जानिये किस राशियों को मिलेगा लाभ

सारिका घारू ने बताया कि, इस साल आगामी दो जुलाई को पूर्ण सूर्यग्रहण पड़ रहा है, यह दक्षिण अमेरिका, प्रशांत महासागर और दक्षिण मध्य अमेरिका एवं अजेंटीना में ही दिखाई देगा। इसे भारत में नहीं देखा जा सकेगा, क्योंकि यह भारतीय समयानुसार रात्रि 10.25 बजे आरंभ हो रात्रि 3.21 बजे पर समाप्त होगा। इसी के साथ बताया कि सूर्य, चंद्रमा और पृथ्वी तीनों के एक ही सीधी रेखा में आने से होने वाली सूर्यग्रहण की यह खगोलीय घटना चार प्रकार की होती है, जिससे सूर्यग्रहण आशिंक, केकड़ाकार, पूर्ण और हाईब्रिड प्रकार के होते हैं। 

आगे उन्होंने बताया, कि गत पांच हजार वर्षों में कुल 11 हजार 808 सूर्यग्रहण पड़े हैं, जिनमें से आंशिक ग्रहण लगभग 35 प्रतिशत, कंकड़ाकार 33 प्रतिशत, पूर्ण सूर्यग्रहण 27 प्रतिशत और हाईब्रिड करीब पांच प्रतिशत रहे हैं। सारिका ने बताया, कि एक वर्ष में कम से कम दो और अधिकतम पांच सूर्यग्रहण पड़ सकते हैं।

उन्होंने बताया, कि 26 दिसम्बर 2019 को भारत के कोयम्बटूर, मदुरै के उत्तर में कंकड़ाकार सूर्यग्रहण का आनंद लिया जा सकेगा, लेकिन पूर्ण सूर्यग्रहण के लिए लम्बा इंतजार करना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि 20 मार्च 2023 को पूर्ण सूर्यग्रहण पड़ेगा, जो कि कारगिल और हिमाचल प्रदेश के पहाड़ी भागों में देखा जा सकता। इसके बाद तीन जून 2114 को पडऩे वाले सूर्यग्रहण का आनंद देश के मैदानी इलाकों मध्यप्रदेश, राजस्थान, बिहार और पश्चिम बंगाल में लिया जा सकेगा।

इसे भी पढ़े: साल का पहला ग्रहण जाने कब लग रहा | किन राशियों पर होगा इसका असर – जाने सब कुछ यहाँ

Malcare WordPress Security