‘हाउडी मोदी’ में शामिल न होने के लिए US प्रेसिडेंशियल कैंडिडेट तुलसी गबार्ड ने पीएम मोदी से मांगी माफी

आज शुक्रवार 20 सितंबर को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों के लिए पहली भारतीय मूल की महिला उम्मीदवार तुलसी गबार्ड ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा का गर्मजोशी से वेलकम किया है| 22 सितंबर को ह्यूस्टन में ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में शामिल नहीं हो पाएंगी, जिसकी वजह से उन्होंने माफी भी मांगी है| संयुक्त राज्य अमेरिका की डेमोक्रेटिक पार्टी की सदस्य गबार्ड ने स्पष्ट किया कि, वह अपने निर्धारित प्रेसिडेंशियल कैंपेन से संबंधित पूर्व प्रतिबद्धताओं की वजह से कार्यक्रम में उपस्थित नहीं हो पाएंगी|’

इसे भी पढ़े: UK की अदालत ने भगोड़े नीरव मोदी की रिमांड 17 अक्टूबर तक बढ़ाई

तुलसी गबार्ड ने एक वीडियो संदेश में कहा, “नमस्ते! मैं प्रधानमंत्री मोदी की अमेरिका की यात्रा पर उनका हार्दिक स्वागत करना चाहती हूं| मुझे खेद है, कि मैं पहले से निर्धारित राष्ट्रपति चुनाव प्रचार कार्यक्रमों के कारण वहां शामिल नहीं हो पाऊंगी|” उन्होंने कहा, ”मैं वास्तव में बहुत खुश हूं कि हमारे देश से बहुत सारे भारतीय अमेरिकियों के साथ-साथ कांग्रेस के सहयोगी भी वहां आ रहे हैं|”

भारत को एशिया-प्रशांत क्षेत्र में अमेरिका के सबसे महत्वपूर्ण साझेदारों में से एक के रूप में बताते हुए, उन्होंने कहा, “भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और एशिया-प्रशांत क्षेत्र में अमेरिका के सबसे महत्वपूर्ण साझेदारों में से एक है| अगर हम दुनिया को प्रभावित करने वाले जलवायु परिवर्तन से निपटने, परमाणु युद्ध और परमाणु प्रसार को रोकने और हमारे लोगों की आर्थिक भलाई में सुधार लाने जैसे मुद्दों को संबोधित करते हैं तो साथ मिलकर काम करें |”

इसे भी पढ़े: इंडोनेशिया में भूकंप से हिली धरती, एक घंटे के अंदर महसूस किए गए दो झटके