Home Breaking News योगी ने शुरू की नई योजना श्रमिक भरण-पोषण योजना, 20 लाख मजदूरों...

योगी ने शुरू की नई योजना श्रमिक भरण-पोषण योजना, 20 लाख मजदूरों को मिली एक हजार रुपए की पहली किस्त

0
337

नॉवेल कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रकोप को बढ़ने से रोकने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने पूरे प्रदेश को लॉकडाउन कर दिया है । लॉकडाउन होने से सबसे अधिक दिक्कत दिहाड़ी करने वाले मजदूरों को झेलनी पड़ रही है । इसको मद्देनजर रखते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी सरकार ने श्रमिक भरण-पोषण योजना को आरम्भ किया है । मंगलवार को इस योजना के अंतर्गत लगभग 20 लाख से ज्यादा  मजदूरों के खता में एक हजार रुपए की पहली किस्त भेज दी गयी है । क्योंकि कठिन समस्याओं में दिहाड़ी करने वाले मजदूरों को खाने पीने में कोई तकलीफ न हो, इसके लिए मुख्यमंत्री योगी ने पिछले दिनों राहत पैकेज का घोषणा किया था ।

योगी सरकार ने लिया कड़ा फैसला, अब 25 से 27 मार्च तक पूरे उत्तर प्रदेश में

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि पहली किस्त सीधे बेनेफिट ट्रांसफर स्कीम के अंतर्गत लोगों के खाते में भेजा जा चुका है । मुख्यमंत्री ने कहा है कि राहत राशि केवल दिहाड़ी मजदूरों तक सीमित नहीं रहेगी । हम जल्द ही पल्लेदारों, रिक्शा, ई-रिक्शा चालक, रेहड़ी, ठेला और खोमचा लगाने व्यक्तियों को भी भरण-पोषण के लिए एक हजार रुपए का भत्ता उन्हें देगें ।

उत्तर प्रदेश : लॉकडाउन में अब बिल्कुल ना घबराएं,

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को 5 कालीदास मार्ग स्थित अपने सरकारी आवास से श्रमिक भरण-पोषण स्कीम को आरम्भ किया है । इस दौरान मुख्यमंत्री ने चार श्रमिकों को प्रतीकात्मक रूप से एक हजार रुपये का चेक भी दिया । उन्होंने कहा है कि नॉवेल कोरोना वायरस के कहर को देखते हुए सोशल डिस्टेंस बनाने और होम क्वारंटाइन के वजह से लोगों का कारोबार पर असर हुआ है । जिसके कारण से यह सुविधा दिया जा रहा है ।

‘मैं समाज का विरोधी हूं, मैं घर पर नहीं रह सकता हूँ’