यूपी सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को जारी किए अतिरिक्त 50 करोड़

नॉवेल कोरोना वायरस से लड़ने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री हर बड़ा कदम उठा रहें हैं । इसी प्रकार से बुधवार को उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने स्वास्थ्य विभाग के लिए अलग से 50 करोड़ रुपये का एलान किया है । इसके साथ – साथ उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश की जनता से नॉवेल कोरोना वायरस के संक्रमण की चेन को ब्रेक करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में 21 दिनों तक लॉकडाउन की एलान के पश्चात अपने- अपने घरों में रहने के लिए अनुरोध किया है ।

योगी ने शुरू की नई योजना श्रमिक भरण-पोषण योजना,

वहीं, बीती रात पूरे देश भर में 21 दिन के लॉकडाउन के घोषणा के पश्चात उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बताया है कि प्रदेश के नागरिकों को परेशान होने की कोई आवश्यकता नहीं है । उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा लोगों के घर-घर में आवश्यक सामान पहुंचने का कार्य किया जायेगा । जिसकी पूरी तैयारी हो चुकी है । लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी ।

योगी सरकार ने लिया कड़ा फैसला, अब 25 से 27 मार्च तक पूरे उत्तर प्रदेश में

यूपी के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट किया- अपनी सांसद निधि से एक करोड़ रूपये आज़मगढ़ मेडिकल कॉलेज के सभी चिकित्सकों-स्वास्थ्यकर्मियों के ‘पर्सनल प्रोटेक्शन इक्विप्मेंट’ व नॉवेल कोरोना वायरस जांच की ‘टेस्टिंग किट’ के लिए देते हुए कहा है कि मैं सभी लोगों से इस कठिन परिस्थिति में सहयोग के लिए अनुरोध कर रहा हूँ ।

उत्तर प्रदेश : लॉकडाउन में अब बिल्कुल ना घबराएं,

दूध और सब्जी उत्तर प्रदेश में घर-घर पहुँचाया जा रहा है

यूपी में लॉकडाउन के दौरान प्रशासन ने यूपी की जनता को सहयोग पहुंचाना आरम्भ कर दिया है । उत्तर प्रदेश में जनता को व्यवस्था देना शुरू कर दिया है कि लोग अपने घरों से बाहर ना निकलें । यूपी के रामपुर के जिलाधिकारी ने ट्वीट कर के कहा है कि आप लोग बिल्कुल भी न घबराएं । उन्होंने यह भी कहा है कि हम आपके घर खुद जरुरी सामान पहुँचाने आएंगे । जिलाधिकारी  ने बिलासपुर तहसील की फोटो ग्राफ ट्वीट करते दिखाया है कि किस प्रकार लोगों के घरों में दूध पहुंचाई जा रही है ।

‘मैं समाज का विरोधी हूं, मैं घर पर नहीं रह सकता हूँ’