Budget 2019 : अगले 5 साल में IIT और IIM जैसे खुलेगे 50 नए संस्थान, साथ ही शिक्षा बजट में होंगे बड़े बदलाव

0
119

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 5 जुलाई को पेश होगा। दूसरी बार देश में अपनी सत्ता कायम करने वाली मोदी सरकार दूसरे कार्यकाल के पहले पूर्ण बजट में क्या-क्या खास करने वाली है?  इसका अनुमान अभी से लगाया जाने लगा है, अब देखना यह है, कि सरकार छात्रों और युवाओं को ध्यान में रखते हुए बजट में क्या पेश करने जा रही है| वहीं उम्मीद है, कि इस बार के शिक्षा बजट में सरकार कुछ अहम घोषणाएं कर सकती हैं|

Advertisement

इसे भी पढ़े: धनुष तोप क्या है | अब छूटेगे दुश्मनों के छक्के, सेना में हुई शामिल

ये किये जा सकते हैं बड़े बदलाव

1.मोदी सरकार नेशनल एजुकेशन पॉलिसी 2019 के माध्यम से  शिक्षा व्यवस्था में सुधार करनी की कोशिश में लगी हुई है| इसके माध्यम से सरकार स्कूली शिक्षा से लेकर हाईअर एजुकेशन तक में काफी बदलाव होगा,  इसके साथ ही परीक्षा के वर्तमान  सिस्टम में भी संशोधन किया जा सकता है|

2.पेश करने वाले बजट में केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालयों की संख्या बढ़ाने की पूरी संभावना है,  इसके अलावा इस बजट में सरकार ने 2024 तक ऐसे 200 और स्कूल खोले जाने का लक्ष्य रखा है|

3.अगले 5 साल में सेंट्रल लॉ कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, साइंस और मैनेजमेंट इंस्टीट्यूशन में कम से कम 50 फीसदी सीटें बढ़ाने की संभावना हैं, इसके लिए सरकार सभी जरूरी कदम उठाएगी| इसके अलावा राज्य सरकारों को भी सीटें बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जाएगा|

4.उच्च शिक्षा के लिए इंस्टीट्यूशन की संख्या बढ़ाने पर काम किया जाएगा, सरकार अगले 5 साल में कम से कम 50 ऐसे संस्थान तैयार करने के लिए पूरी कोशिश कर सकती है|

5.टीचर्स की ट्रेनिंग के लिए विशेष प्रशिक्षण संस्थान की व्यवस्था की जाएगी| इन संस्थानों में 4 साल का कंबाइड कोर्स कराया जाएगा और शिक्षकों के प्रशिक्षण पर बल दिया जा सकता है|

6.छात्रों के लिए स्मार्ट क्लासेज की शुरुआत की जाने की पूरी संभावना है| इसमें नई तकनीक से पढ़ाई पर जोर दिया जाएगा|

7.सरकार ऑनलाइन एजुकेशन पर पूरा ध्यान देगी| इसे विस्तार से लागू भी कर दिया जाएगा|

इसे भी पढ़े: सरकार ला रही प्रस्ताव, इलेक्ट्रिक गाड़ियों के लिए नहीं देना होगा कोई भी रजिस्ट्रेशन शुल्क

Advertisement