Coronavirus Helpline Number: Toll-Free COVID-19 तत्कालीन सेवा नम्बर

नॉवेल कोरोना वायरस का कहर पूरे विश्व में देखने को मिल रहा है |  भारत सरकार ने इसके बचाव के लिए कई कदम उठाये है | भारत में सरकार द्वारा अलग – अलग राज्यों के हेल्प लाइन नंबर जारी किये गए है | और लोगों को इसके बारे में जागरूक करने का काम भी सरकार कर रही है | कोरोना वायरस के मरीजों को विशेष सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है | जिससे और लोगों को इसके प्रकोप से बचाया जा सके |

सरकार ने उठाया कदम, मास्क और हैंड सैनिटाइज़र को आवश्यक वस्तु घोषित किया गया

केंद्र सरकार ने नॉवेल कोरोना वायरस का कंट्रोल रूम का फोन नंबर 104 जारी किया है । इस टोल फ्री नंबर पर रोज सुबह 8 से रात 8 बजे के बीच फ़ोन करके नोवल कोरोना वायरस के विषय में किसी भी तरह की शंका के समाधान या इससे सम्बंधित जानकारी मिल सकती है । केंन्द्र सरकार के इस कदम से लोगों सहायता मिलेगी |

कोरोना वायरस (Coronavirus) के लक्षण क्या होते है, Coronavirus से बचने के उपाय

कोरोना वायरस हेल्प लाइन नंबर राज्य वॉर सूची

क्रम संख्या राज्यों के नाम हेल्प लाइन नंबर्स
1 आंध्र प्रदेश 0866-2410978
2 अरुणाचल प्रदेश 9536055743
3 असम 6913347770
4 बिहार 104
5 छत्तीसगढ़ 077122-35091
6 गोवा 104
7 गुजरात 104
8 हरयाणा  8558893911
9 हिमाचल प्रदेश 104
10 झारखण्ड 104
11 कर्नाटक 104
12 केरला 0471-2552056
13 मध्य  प्रदेश 0755-2527177
14  महाराष्ट्र  020-26127394
15 मणिपुर  3852411668
16  मेघालय 9366090748
17 मिजोरम 102
18 नागालैंड   7005539653
19 ओडिशा 9439994859
20 पंजाब 104
21 राजस्थान 0141-2225624
22 सिक्किम 104
23 तमिल नाडु 044-29510500
24 तेलंगाना 104
25 त्रिपुरा 0381-2315879
26 उत्तराखंड 104
27  उत्तर  प्रदेश 18001805145
28 वेस्ट  बंगाल  3323412600

डब्ल्यूएचओ ने दिया कोरोना वायरस को नया नाम कोविड-19

केंद्र शासित  राज्यों के हेल्प लाइन नंबर

क्रम संख्या केंद्र शासित राज्यों के नाम हेल्प लाइन नंबर्स
1 अंडमान  एंड  निकोबार  इसलैंड्स 03192-232102
2 चंडीगढ़  9779558282
3 दादरा  एंड  नगर  हवेली  एंड  दमन  एंड  द्वीप 104
4 दिल्ली  011-22307145
5 जम्मू  और कश्मीर 1912520982, 0194-2440283
6  लदाख 1982256462
7 लक्षद्वीप 4896263742
8 पुडुचेर्री 104

भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus) की दस्तक पर आयुष मंत्रालय ने जारी की एडवाइजरी, ऐसे करे बचाव