Cyclone Vayu: चक्रवाती तूफान ‘वायु’ ने बदला रास्ता, अब अरब सागर की ओर जायेगा तूफ़ान

0
294

भारत के लिए एक अच्छी खबर है, कि चक्रवाती तूफान ‘वायु’ गुजरात की सीमा से नहीं टकराएगा बल्कि पोरबंदर, द्वारका के समीप से होते हुए गुजरेगा| यह सूचना भारतीय मौसम विभाग के द्वारा जारी की गयी है| भारतीय मौसम विभाग के वैज्ञानिक मनोरमा मोहंती ने कहा कि ” गुजरात से चक्रवात नहीं टकराएगा| यह वेरावल, पोरबंदर और द्वारका से होकर गुजर जाएगा| इसका असर तटीय क्षेत्रों में देखने को मिल सकता है, इन इलाकों में तेज हवा और भारी बारिश हो सकती है”|

Advertisement

ये भी पढ़ें: गुजरात में कल 140 से 165 किमी प्रति घंटा तक की रफ्तार से आ सकता भयंकर तूफ़ान – अलर्ट किया गया जारी

गुजरात राज्य में हाईअलर्ट जारी किया गया है, वायु चक्रवाती तूफान की वजह से यहाँ पर मौसम बहुत ही ख़राब हो सकता है| समुद्र की लहरे भी विकराल रूप ले सकती है| इस समय कई इलाकों में भारी बारिश हुई हैं और तेज हवाएं भी चल रही हैं| प्रशासन को किसी भी मुसीबत से निपटने के लिए बिलकुल एलर्ट पर रखा गया है| भारतीय मौसम विभाग के अनुसार कल रात को वायु चक्रवाती तूफान ने अपना रास्ता बदल दिया है, यह अब समुद्र की ओर जायेगा|

चक्रवाती तूफान ‘वायु’ का असर

चक्रवाती तूफान ‘वायु’ के लिए सोमनाथ मंदिर को खुला रखा गया है| इस पर गुजरात के मंत्री भूपेंद्र सिंह चुड़ासमा ने कहा कि ” ‘ये कुदरती आफत है, कुदरत ही रोक सकती है, तो कुदरत को हम क्या रोकें’ साथ ही उन्होंने कहा, ‘मंदिर बंद नहीं रह सकते, हमने यात्रियों से न आने की अपील की है, लेकिन आरती की सालों से हो रही है, ऐसे में उसे नहीं रोक सकते”|

महाराष्ट्र में भी चक्रवात का असर देखने को मिलेगा| इसके साथ यहाँ पर भारी बारिश और तेज हवा चल रही है| इस समय अरब सागर में ऊंची-ऊंची लहरें उठ रही है| कोंकण क्षेत्र को सभी लोगों के लिए बंद कर दिया गया है|

ये भी पढ़ें: मौसम का कहर: मोदी के गुजरात के लिए मुआवजे का ऐलान करने पर, कमलनाथ ने कहा- आप देश के पीएम हैं, फिर PMO ने की नई घोषणा

Advertisement