लोकसभा चुनाव | इलेक्शन डेट 2019 में कब | किस महीने में होगा

0
309

लोकसभा चुनाव-2019

Advertisement

वर्तमान समय में लोगो के बीच चुनाव को तारीखों को लेकर कई प्रकार के कयास लगाये जा रहे है, यह सभी जानते है, कि 17वें लोकसभा चुनाव 2019 के अप्रैल और मई में होंगे। 545 सदस्‍यों वाली संसद के निचले सदन में 543 सीटों के लिए चुनाव होते हैं, और एंग्‍लो-इंडियन कम्‍युनिटी से दो सदस्‍यों को राष्‍ट्रपति द्वारा मनोनीत किया जाता है।

इन चुनावों के लिए सात राष्‍ट्रीय दलों- कांग्रेस, भाजपा, बसपा, सीपीआई, सीपीआई-एम, एनसीपी और तृणमूल कांग्रेस के साथ क्षेत्रीय पार्टियों ने नई रणनीति और योजना के साथ तैयारी आरंभ कर दी है।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है, कि लोकसभा चुनाव के साथ आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, हरियाणा, ओडिशा, सिक्किम और जम्‍मू-कश्‍मीर विधानसभा के चुनाव होनें की संभावना हैं। जम्मू-कश्मीर की विधानसभा पिछले वर्ष नवंबर में भंग हो चुकी है, और नियमों के अनुसार 6 माह के अंदर विधानसभा चुनाव करवाने होंगे| अब यह कयास लगाया जा रहा है, कि जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव, आम चुनाव से पहले या उनके साथ ही होंगे|

ये भी पढ़े: आदर्श चुनाव आचार संहिता क्या है

लोकसभा चुनाव किस महीने में होगा

लोकसभा चुनाव की तिथियों की घोषणा संभवतः मार्च के पहले सप्ताह में की जा सकती है |  तारीख़ों को लेकर जारी अटकलों के बीच समाचार एजेंसियों के अनुसार,  इस बार भी मार्च के पहले हफ्ते में चुनाव की तारीख़ों का ऐलान हो सकता है | इसके साथ ही चुनाव आयोग अपनी उम्मीदवारी वापस लेने की तिथियाँ निर्धारित कर सकता है, उम्मीदवारी वापस लेने की तारीख़ और वोटिंग की तारीख़ के बीच कम से कम 14 दिन राजनीतिक दलों को प्रचार के लिए दिए जाते हैं |

चुनाव आयोग ने वर्ष 2014 में 5 मार्च को लोकसभा चुनावों की तारीखों की घोषणा की थी। पिछली बार के आम चुनाव 9 चरणों में अप्रैल और मई में हुए थे, जिसके पहले चरण की वोटिंग 7 अप्रैल को और अनितं चरण की वोटिंग 12 मई को हुई थी।

ये भी पढ़े: राष्ट्रीय पार्टियों के नाम और चुनाव चिन्ह 

लोक सभा चुनाव इलेक्शन डेट- 2019

चुनाव आयोग के सूत्रों प्राप्त जानकारी के अनुसार, चुनाव आयोग द्वारा मार्च के पहले सप्ताह में लोकसभा चुनाव 2019 के कार्यक्रम की घोषणा कर सकता है। चुनाव आयोग के सूत्रों ने आज यह संकेत देते हुए कहा, कि लोकसभा चुनाव के साथ कुछ राज्यों के विधानसभा चुनाव भी कराने की संभावना व्यक्त की है, क्योंकि मौजूदा लोकसभा का कार्यकाल आगामी तीन जून को समाप्त होगा।

मुख्य चुनाव आयुक्त ने लोकसभा चुनाव 2019 की तैयारियों को लेकर शहर में पोलिंग बूथों के निरीक्षण का कार्य समय से करने  निर्देश दिया है, जिसके पश्चात शहर में पोलिंग बूथों के निरीक्षण का कार्य आयोग के निर्देश पर ही शुरू कर दिया गया है।

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार, आयोग ने चुनाव के चरण सुरक्षा बलों की उपलब्धता और अन्य जरूरतों पर निर्भर करेगा। इसके लिए तैयारियां जल्द ही पूरी कर ली जाएं। आम चुनाव कितने चरण और किन महीनों में होंगे, अभी इस पर चुनाव आयोग में अंतिम मुहर लगना शेष है। चुनाव आयोग द्वारा जैसे ही तिथियों की घोषणा की जाएगी, वैसे ही हमारे न्यूज़ पोर्टल yuglive.com  द्वारा तुरंत अपडेट किया जायेगा| इस प्रकार की महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए आप हमारे पोर्टल से जुड़कर रखिये अपने आप को हमेशा अपडेट |

ये भी पढ़े:राजनीतिक दलों के लिए आसान नहीं होगा इस बार फेसबुक पर प्रचार कराना

Advertisement