लखनऊ लोकसभा सीट का इतिहास क्या कहता है, कितने है इस निर्वाचन क्षेत्र में वोटर्स

Lucknow Lok Sabha Election- 2019

लखनऊ लोकसभा सीट देश की सबसे प्रमुख सीटों में से एक है। वर्तमान में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह सांसद हैं। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ लोकसभा सीट पर 1991 से लेकर अब तक बीजेपी का कब्ज़ा रहा है| यह पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की कर्मभूमि कही जाती है|

लखनऊ संसदीय सीट 1991 में बीजेपी के पाले में आई,और तब से  2014 तक इस सीट पर बीजेपी की जीत निरंतर जारी है| अटल बिहारी वाजपेयी इस सीट से लगातार पांच बार चुने गए| उनके राजनीतिक जीवन से सन्यास लेने के बाद 2009 में बीजेपी के टिकट से इस सीट पर लालजी टंडन को जीत मिली|

नोट:- लखनऊ में मतदान चौथे चरण के अंतर्गत 6 मई को होगा|

ये भी पढ़ें: कानपुर लोकसभा चुनाव में किन प्रत्याशियों की है सीधी टक्कर, क्या है यहाँ के मुद्दे

लखनऊ लोकसभा सीट का चुनावी इतिहास

आजादी के बाद लखनऊ संसदीय सीट पर कुल 16 बार लोकसभा चुनाव हो चुके हैं. इनमें सबसे ज्यादा 7 बार बीजेपी और 6 बार कांग्रेस जीत हासिल की है. इसके अलावा जनता दल, भारतीय लोकदल और निर्दलीय ने एक-एक बार जीत दर्ज की है| लखनऊ लोकसभा सीट पर पहली बार 1952 में चुनाव हुए तो कांग्रेस की जीत हुई, इसके बाद कांग्रेस ने लगातार तीन बार जीत हासिल की, लेकिन 1967 में हुए आम चुनावों में निर्दलीय उम्मीदवार आनंद नारायण ने जीत का परचम लहराया|

इसके बाद 1971 में हुए आम चुनाव में कांग्रेस की शीला कौल सांसद बनी| 1977 हेमवती नंदन बहुगुणा भारतीय लोकदल के टिकट पर जीतकर लोकसभा पहुंचे| 1980 में कांग्रेस (इंदिरा) और 1984 में भारतीय राष्ट्रीय  कांग्रेस की टिकट पर शीला कौल ने लगातार दो बार जीत प्राप्त की| 90 के दशक में बीजेपी नेता अटल बिहारी वाजपेयी ने लखनऊ संसदीय सीट से मैदान में उतरकर जीत का जो सिलसिला शुरू किया, जो आज भी जारी है|  

यूपी की लखनऊ लोकसभा सीट में पांच विधानसभा सीटें आती हैं। इनके नाम लखनऊ पश्चिम, लखनऊ उत्तर, लखनऊ पूर्व,लखनऊ मध्य और लखनऊ कैंट हैं।

निर्वाचन क्षेत्र में मतदाता

वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार,  लखनऊ की आबादी 45.89 लाख, यहाँ की औसत साक्षरता दर 77.29% है| हिंदू आबादी 77 प्रतिशत है| अनुसूचित जाति की आबादी 14.3% हैं, तो अनुसूचित जनजाति की 0.2%. इसी तरह ब्राह्मण, राजपूत वोटर भी मिलकर लगभग 18 प्रतिशत हैं| ओबीसी मतदाता 28 फीसदी और मुस्लिम मतदाता करीब 18 फ़ीसदी हैं| वर्ष  2014 के चुनाव में 1949596 वोटरों ने मतदान किया था, जिसमें  53 प्रतिशत पुरुष और 46 प्रतिशत महिलाएं शामिल थी|

ये भी पढ़ें: बरेली लोकसभा सीट क्या है चुनावी माहौल, क्या रहा अब तक इतिहास